मुख्यमंत्री भूपेश से भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी बरखा ताम्रकार ने की मुलाकात, छत्तीसगढ़ को अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में प्रोमोट करने के सम्बंध में हुई चर्चा…

रायपुर, 12 नवम्बर 2020। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ की भारतीय विदेश सेवा की प्रथम महिला अधिकारी बरखा ताम्रकार ने सौजन्य मुलाकात कर छत्तीसगढ़ को अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में प्रोमोट करने के संबंध में विचार-विमर्श किया। ताम्रकार ने कहा कि छत्तीसगढ़ की लोककला, हस्तशिल्प, छत्तीसगढ़ी व्यंजन और विशेषकर यहां के आर्गेनिक उत्पाद जैसे मुनगा आदि अपने आप में अनूठे हैं और इन्हें वैश्विक स्तर पर प्रचारित कर छत्तीसगढ़ को अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड के रूप में स्थापित किया जा सकता है। उन्होंने चर्चा के दौरान कहा कि एडवेंचर टूरिज्म के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ को देश के हॉटस्पॉट की तरह प्रचारित किया जाने की आवश्यकता है। इसके लिए विदेशी कम्पनियों के साथ सहयोग एवं विदेशी राजदूतों के स्टेट स्पॉन्सर्ड टूर जैसे कदम बहुत प्रभावी सिद्ध होंगे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बरखा ताम्रकार को छत्तीसगढ़ी लोक-कला एवं संस्कृति तथा यहां के आर्गेनिक उत्पादों को वैश्विक पहचान दिलाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया। बरखा ताम्रकर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ‘डिस्कवरी चैनल’ और विश्व प्रसिद्ध ट्रेवल गाइड पब्लिशर ‘लोनली प्लेनेट’ से सहयोग लिया जा सकता है। छत्तीसगढ़ की अनूठी शिल्प कला, जैविक कृषि उत्पादों को अंतर्राष्ट्रीय पटल पर स्थापित करने में अमेजॉन और फ्लिपकार्ड जैसे ऑनलाईन ई-कॉमर्स प्लेटफार्म काफी सहायक हो सकते हैं।

छत्तीसगढ़ी लोक संगीत को भी डीडी भारती और आकाशवाणी के माध्यम से सभी तक पहुंचाने की जरूरत है। फिनलैंड में अपशिष्ट प्रबंधन द्वारा रिन्यूएबल ऊर्जा उत्पादन जैसे विदेशों में किये जा रहे उल्लेखनीय विकास कार्यों को छत्तीसगढ़ में भी अपनाना चाहिए ताकि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर छत्तीसगढ़ की पहचान बने। भारत और पर्यटन पर्व जैसे मेलों में सहभागिता बढ़ा कर वैश्विक स्तर पर छत्तीसगढ़ की लोक कला एवं संस्कृति को उभारा जा सकता है।

Spread the love