न्यूजीलैंड से फिर हारा भारत, 22 रन से हारा दूसरा वनडे, न्यूजीलैंड ने 2-0 से जीती सीरीज….

नईदिल्ली 8 फरवरी 2020। न्यूजीलैंड ने शनिवार को ऑकलैंड के ईडन पार्क मैदान पर खेले गए दूसरे वनडे मैच में भारत को 22 रनों से हरा तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली है। न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 274 रनों का लक्ष्य रखा। इसके जवाब में भारतीय टीम 48.3 ओवरों में 251 रनों पर ही ढेर हो गई। मेहमान टीम के लिए कुछ हद तक श्रेयस अय्यर ने लड़ाई लड़ी और 57 गेंदोें पर सात चौके तथा एक छक्के की मदद से 52 रन बनाए। उनके अलावा रवींद्र जडेजा ने 55 और नवदीप सैनी ने भी 45 रन बना टीम को जीत दिलाने की कोशिश की लेकिन असफल रहे।

इससे पहले, न्यूजीलैंड ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 273 रनों का स्कोर बनाया। न्यूजीलैंड के लिए रॉस टेलर ने नाबाद 73, ओपनर मार्टिन गुप्टिल ने 79 और हेनरी निकोलस ने 41 रनों का योगदान दिया। गुप्टिल ने 79 गेंदों पर आठ चौके और तीन छक्के जबकि टेलर ने 74 गेंदों पर छह चौके और दो छक्के लगाए। कीवी टीम ने अंतिम पांच ओवरों में 53 रन बटोरे। भारत की ओर से युजवेंद्र चहल ने तीन, शार्दुल ठाकुर ने दो और जडेजा ने एक विकेट हासिल किया।

भारत ने अपने दोनों सलामी बल्लेबाजाें को 34 रन के भीतर ही खो दिया था। मयंक अग्रवाल अपने करियर के दूसरे वनडे में तीन रन और शॉ 24 रन ही बना पाए। उनके आउट होने के बाद कप्‍तान  कोहली (15) और केएल राहुल (4) भी पारी को संभाल नहीं पाए। हालांकि पिछले मैच के शतकधारी श्रेयस अय्यर ने (52) रन बनाकर पारी संभालने की कोशिश की, मगर दूसरे छोर पर केदार जाधव (9) साथ नहीं दे पाए।

शीर्ष क्रम के फ्लॉप होने के बाद भारत पर हार का साया मंडराने लगा था, मगर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) और नवदीप सैनी ने शानदार साझेदारी करके भारत की उम्मीदों को एक बार फिर जिंदा कर दिया था। दोनों के बीच 76 रन की साझेदारी हुई। मगर 229 रन पर नवदीप के रूप में 8वां विकेट गिरने के बाद भारत की उम्मीद कम हो गई थी और फिर रही सही उम्मीद जडेजा के रूप में आखिरी विकेट गिरने पर ही खत्म हो गई। नवदीप ने इस मुकाबले में 45 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली, जबकि जडेजा ने 55 रन बनाए।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी  करते हुए न्यूजीलैंड ने मार्टिन गप्टिन और रॉस टेलर की अर्धशतकीय पारी के दम पर आठ विकेट पर 273 रन बना लिए थे। टेलर 74 गेंद में छह चौकों और दो छक्कों के साथ 73 रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने नौवे विकेट के लिए काइले जैमीसन के साथ 51 गेंद में 76 रन की साझेदारी की. वनडे क्रिकेट में डेब्यू कर रहे जैमीसन 24 गेंद में नाबाद 25 रन बनाए। एक समय न्यूजीलैंड का स्कोर आठ विकेट पर 197 रन था, लेकिन इन दोनों ने उसे संकट से निकाला।

सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल ने 79 गेंद में 79 रन बनाए। न्यूजीलैंड की शुरुआत अच्छी रही, लेकिन उसने सात विकेट 55 रन के भीतर गंवा दिए। गप्टिल ने अपनी पारी में आठ चौके और तीन छक्के लगाए।

टेलर और जैमीसन ने चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया
एक समय लग रहा था कि न्यूजीलैंड टीम 200 रन भी पार नहीं कर सकेगी. टेलर और जैमीसन ने हालांकि न्यूजीलैंड को इस शर्मिंदगी से बचाया. टेलर ने 61 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा किया. दोनों की 50 रन की साझेदारी 35 गेंद में पूरी हुई. न्यूजीलैंड ने आखिरी पांच ओवर में 53 रन बनाए। इससे पहले विराट कोहली ने इस दौरे पर पहली बार टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। भारत ने कुलदीप यादव और मोहम्मद समी की जगह युजवेंद्र चहल और नवदीप सैनी को उतारा।

दूसरे वनडे में युजवेंद्र चहल भारत  की  ओर से सफल गेंदबाज रहे. उन्होंने गप्टिल और हेनरी निकोल्स के बीच हुई 93 रन की साझेदारी को  17वें ओवर में तोड़कर भारत को पहली सफलता दिलाई थी और इसके बाद ही कीवी टीम की रन गति भी धीमी पड़ गई। चहल ने 15वें ओवर में निकोल्स का कैच छोड़ा था, लेकिन पहला विकेट गिरने के बाद कीवियों पर दबाव बन गया।

शार्दुल ठाकुर ने टॉम ब्लंडेल (22) को आउट किया। इसके बाद गुप्टिल तेजी से रन लेने के प्रयास में ठाकुर के थ्रो पर रन आउट हो गए। न्यूजीलैंड के तीन विकेट 157 रन पर गिर गए थे। रवींद्र जडेजा ने टाॅम लाथम (7) को आउट किया और जिम्मी नीशाम (3) को रन आउट कर दिया। कॉलिन डि ग्रैंडहोम (05) को ठाकुर ने पवेलियन भेजा जबकि चहल ने मार्क चैपमैन (01) का रिटर्न कैच लिया।

वनडे क्रिकेट में यह न्यूजीलैंड की भारत पर लगातार तीसरी जीत है। उसने भारत को पिछले साल हुए विश्व कप के सेमीफाइनल में हराया था. इसके बाद उसने मौजूदा वनडे सीरीज में लगातार दो मैच जीत लिए हैं। इस तरह कीवी टीम ने भारत पर जीत की हैट्रिक बना ली है।

Spread the love