निजी स्कूल लॉकडाउन में ना फीस मांगे ना ही फीस के लिए संदेश भेजें, शासन के निर्देशों का उल्लंघन होने पर लेंगे संज्ञान : प्रभा दुबे

 

रायपुर, 11 अप्रैल 2020 छ.ग. राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष प्रभा दुबे ने राज्य सरकार द्वारा निजी स्कूलों पर लॉकडाउन के दौरान ना तो फीस लेने और न ही इसके संदेश भेजने पर रोक लगाये जाने का स्वागत किया है। इसके लिए उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री व राज्य शासन के संवेदनशील अधिकारियों का आभार व्यक्त किया है।  दुबे ने इसे बाल अधिकारों के संरक्षण की दिशा में उत्तम कदम बताते हुए यह भी सचेत किया है कि निजी स्कूलों द्वारा लाॅकडाउन में भी फीस जमा करने संबंधी पालकों को संदेश भेजना गलत है और इस प्रकार की खबर पर उन्होंने नाराजगी भी जताई है। आयोग की अध्यक्ष  प्रभा दुबे ने दो टूक कहा है कि शासन के जारी निर्देशों के बावजूद निजी स्कूलों का पालकों को फीस लेने संबंधी संदेश यदि सामने आते हैं तो यह बेहद गंभीर विषय माना जायेगा।  दुबे ने कहा कि आयोग ऐसे मामलों में संज्ञान लेकर कार्यवाही करेगा। उन्होंने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को उनके जिले में संचालित सभी निजी शालाओं को अवगत कराने और निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने के लिये दूरभाष पर कहा है।

Spread the love