धमतरी में किसानों ने किया सत्याग्रह, सैकड़ो की संख्या में कृषक अपनी मांगो को लेकर सड़क पर डटे रहे….

धमतरी 30 नवंबर 2020. ग्राम दुगली समेत आस पास के किसानों ने धान खरीदी हेतु दुगली में धान उपार्जन केन्द्र खोलने की मांग को लेकर सत्याग्रह किया है, जिसमें दुगली के आसपास के 6 पंचायत के सैकड़ों कृषक प्रतिनिधि उपस्थित है। दुगली में सुबह 10 बजे से सैकड़ो की संख्या में कृषक अपनी मांग को लेकर सड़क पर डटे हुए है। उपस्थित अधिकारियों की मान मनव्वल को अनसुना कर जिलाधीश की उपस्थिति की मांग में लगे हुए है। जनपद कृषि सभापति बंसीलाल सोरी, सरपंच दुगली रामकुंवर मंडावी, सरपंच कौहाबाहरा शिवा नेताम, सरपंच कोलियारी तुलसी मंडावी, सरपंच मुनईकेरा महेन्द्र नेताम, सरपंच गुहानला घासी राम नेताम आदि का कहना है कि 25-30 किलोमीटर तक की दूरी तय कर कृषक धान बेचने परेशान होते हुए गट्टासिल्ली जाते हैं। अगर दुगली में धान उपार्जन केन्द्र खोल दिया जाता है तो आम किसानों को समुचित लाभ होगा जहां समय के साथ कृषक को नजदीक, मुख्य मार्ग सेन्टर जगह व आवागमन में कोई परेशानी नहीं होगी। मिलरों को भी धान उठाव में किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी व किसानों को समय रहते धान बेचने मे भी सहुलियत होगी। बताया कि वन विभाग के मिस्ट चैंबर के बाजू की खाली जमीन को उपयुक्त बताते हुए विगत दिनों वन मंडल अधिकारी धमतरी एवं अनुविभागीय अधिकारी वन नगरी से चर्चा हुई थी। दुगली क्षेत्र के ग्राम पंचायतों के ग्राम दुगली, कौहाबहारा, मुनईकेरा, देवगांव, दिनकरपुर, बिरनपारा, बांधा, मोहमल्ला, गोहाननाला, कोलियारी, जबर्रा, केरामुडा, पालगांव व आसपास अन्य ग्रामों के किसानों को इसका लाभ मिलेगा। आसपास के सभी किसानों ने वन विभाग के मिस्ट चैंबर के बाजू की खाली जमीन को खरीदी केन्द्र के लिए चयनित भी किया है। उम्मीद थी कि इस वर्ष धान खरीदी केंद्र प्रारम्भ हो जाएगा लेकिन कृषकों को निराशा हाथ लगी, इसलिए सत्याग्रह करने का फैसला लिया। अगर इनके मांग को पूरा नही की जाती है तो 1 दिसम्बर को 111 गांव के कृषक इस सत्याग्रह में शामिल होंगे।

Spread the love