3 दिन में सड़क चलने लायक नही बना तो मैं करूंगी सस्पेंड, खस्ताहाल सड़को पर भड़की कलेक्टर किरण कौशल 

कोरबा 28 अगस्त 2020।  कोरबा कलेक्टर किरण कौशल शुक्रवार को एक्शन में दिखी। जिले में खस्ताहाल सड़को के सुस्त मरम्मत कार्याे पर कलेक्टर किरण कौशल जवाबदार अफसरो पर बिफर गई, और चेतावनी देते दिखी कि अगर 3 दिन में सड़क चलने लायक नही बनी तो जवाबदार अफसर अब सस्पेंड होंगे। गौतरलब है कि कोरबा जिले की अधिंकाश सड़के भारी वाहनों के परिचालन से जर्जर हो गयी है। उस पर मानसून ने सड़को की हालत और भी खस्ताहाल कर दिया है। सड़को की बदत्तर स्थिति पर पिछले दिनों ही कलेक्टर किरण कौशल ने अफसरों को मरम्मत कार्य में तेजी लाने को कहा था। लेकिन जवाबदार विभाग के अफसरो की सुस्ती जारी रही। लिहाजा शुक्रवार को कोरबा कलेक्टर किरण कौशल एस.पी.अभिषेक मीणा के साथ एक बार फिर सड़को की मरम्मत का मुआयना करने निकल गई। ध्यानचंद चौक से दर्री होते हुए कटघोरा और पाली मार्ग का कलेक्टर किरण कौशल ने मुआयना किया और नगर निगम सहित लोक निर्माण विभाग के अफसरो से सड़को के खस्ताहाल और मरम्मत में लेट लतीफी की जानकारी ली। अधिकांश सड़को के मरम्मत कार्यो में लापरवाही मिलने पर कलेक्टर किरण कौशल ने नगरीय निकाय के अफसरो के साथ ही लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को मौके पर ही जमकर फटकार लगा दी। इसके साथ ही दर्री से जमनीपाली तक खस्ताहाल सड़को पर कलेक्टर किरण कौशन ने एनटीपीसी के अफसरो को मौके पर तलब किया। कलेक्टर ने एनटीपीसी संयंत्र से राख लेकर जाने वाले कैप्सूल वाहनो के परिचालन के कारण सड़को की हालत खराब होने की बात एनटीपीसी के अधिकारियों को कही और चेतावनी देते हुए ये भी कह दिया कि यदि सड़को के मरम्मत में एनटीपीसी प्रबंधन लोक निर्माण विभाग का सहयोग नही करता है तो सड़को से होने वाले राख के परिवहन पर रोक लगाने के लिए जिला प्रशासन मजबूर होगा। कलेक्टर किरण कौशल यहीं नही रूकी नगर निगम क्षेत्र की सड़को के मरम्मत में लेट-लतीफी पर जमकर नाराज हुई और मौके पर मौजूद निगम के अफसरों को यहां तक कह दिया कि यदि 3 दिन में सड़क आम लोगो के चलने लायक नही बना तो जवाबदार इंजीनियर को मैं सस्पेंड कर दूंगी। कलेक्टर किरण कौशल के तेवर को देखकर अफसरों के बीच हड़कंप मचा हुआ है। ऐसे में अब उम्मीद जताई जा रही है आने वाले 3 दिनों में कोरबा जिला और उपनगरीय क्षेत्रो के खस्ताहाल सड़को को गडढा मुक्त बनाने के लिए अफसर ऐढ़ी-चोटी का जोर लगायेगे, वरना लापरवाह अधिकारियों पर कलेक्टर किरण कौशल की नाराजगी का गाज गिरना तय माना जा रहा है।

Spread the love