IAS ब्रेकिंग : आईएएस डॉ आलोक शुक्ला और एनके शुक्ला हुए रिटायर….. आलोक को मिलेगी अहम जिम्मेदारी, आधा दर्जन IAS का आजकल में निकलेगा पोस्टिंग आदेश

रायपुर, 31 मई 2020। आईएएस डॉ आलोक शुक्ला और एनके शुक्ला कल रिटायर हो गए। हालांकि, 31 मई को उनका रिटायरमेंट डेट था। मगर आज रविवार होने के कारण उन्हें एक दिन पहले सेवानिवृत्त होना पड़ा।
आलोक शुक्ला के पास प्रमुख सचिव स्कूल एजुकेशन, प्रमुख सचिव तकनीकी शिक्षा और रोजगार, कौशल विकास के साथ ही चेयरमैन व्यापम और चेयरमैन माध्यमिक शिक्षा मंडल का चार्ज था। स्कूल एजुकेशन में आलोक शुक्ला जिस तरह सुधार के कार्य कर रहे हैं, दूसरा कोई अधिकारी उसे कंटीन्यू नहीं कर पाएगा। वैसे भी, सरकार ने पहले ही संकेत दे दिया था कि आलोक को कार्यमुक्त नहीं किया जाएगा। ऐसे में, पूरी संभावना है कि उन्हें संविदा पोस्टिंग तो मिलेगी ही, विभाग भी यथावत रहेंगे।
एनके शुक्ला टाउन एंड कंट्री प्लानिंग के डायरेक्टर थे। उनके रिटायर होने के बाद यह महत्वपूर्ण पद खाली हो गया है। बिल्डिंग निर्माण का एप्रूवल इसी विभाग से मिलता है। इस पद पर सरकार किसी ठीक-ठाक अफसर को ही बिठाना चाहेगी।
वहीं, सीएम के सिकरेट्री टामन सिंह सोनवानी पीएससी के चेयरमैन बनाए जा रहे हैं। टामन सिंह के पास सीएम सचिवालय के अलावा सचिव विमानन, डायरेक्टर एग्रीकल्चर, कमिश्नर गन्ना का प्रभार है। ये सभी खाली होंगे। जाहिर है, सचिव विमानन और डायरेक्टर एग्रीकल्चर का चार्ज किसी को देना ही पड़ेगा।
27 मई के आईएएस की सबसे बड़ी सर्जरी में नरेंद्र दुग्गे को बीज विकास निगम से सरकार ने हटा दिया था। उनकी जगह पर आईएफएस अनिल साहू को बीज विकास निगम का एमडी बनाया। लेकिन, दुग्गे को कोई चार्ज नहीं दिया गया। इस बार दुग्गे को भी कोई चार्ज दिया जा सकता है। हो सकता है, एनके शुक्ला का टाउन एंड कंट्री प्लानिंग की जिम्मेदारी ही दुग्गे को मिल जाए। वो इसलिए, क्योंकि दुग्गे को बीज विकास निगम से हटाने का कोई कारण नहीं था। हो सकता है, एनके शुक्ला के ि रिटायरमेंट को देखते सरकार ने दुग्गे को कोई चार्ज नहीं दिया।
उधर, 97 बैच की आईएएस एम गीता भी हार्वर्ड से एक साल का मैनेजमेंट कोर्स करके भारत लौट आई हैं। वे फिलहाल दिल्ली में क्वारेंटाईन हैं। वे भी जल्द ही रायपुर लौटेंगी। हो सकता है, इसी लिस्ट में उन्हें भी कोई विभाग दे दिया जाए।
इसके साथ हो सकता है, सरकार कुछ और आईएएस अफसरों के विभागों को इधर-उधर कर दें। क्योंकि, कई अफसर ओवरलोड हो चुके हैं। इस चलते वे रिजल्ट भी नहीं दे पा रहे।

आदेश आज रविवार होने के कारण निकलना सम्भव प्रतीत नहीं होता। संकेत हैं, कल आदेश जारी हो जाएगा।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.