पति DGP और पत्नी चीफ सिकरेट्रीः विनी महाजन बनीं पंजाब की पहली महिला चीफ सिकरेट्री, सीएस करण अवतार को रिटायरमेंट से पहले हटाया

NPG.NEWS
चंडीगढ़, 26 जून 2020। ब्यूरोक्रेसी में ऐसे संयोग विरले ही आते हैं…जब पति डीजीपी हो और पत्नी उसी राज्य की चीफ सिकरेट्री बन जाए। जी हां….हम पंजाब की बात कर रहे हैं। पंजाब में आज ऐसा ही हुआ। विनी महाजन पंजाब की नई चीफ सिकरेट्री अपाइंट की गई है। विनी 87 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। 87 बैच के ही उनके पति दिनकर गुप्ता पंजाब के डीजीपी हैं। सो, देश में यह पहली बार होगा कि पति-पत्नी किसी राज्य के डीजीपी और सीएस होंगे।
विनी एडिशनल चीफ सिकरेट्री थीं। इसके साथ ही भारत सरकार में इम्पेनल होने वाली पहली आईएएस भी। चीफ सिकरेट्री बनते ही विनी के नाम पंजाब की पहली महिला सीएस बनने का रिकार्ड दर्ज हो गया है। उनके पहले पंजाब मंे कभी महिला मुख्य सचिव नहीं रहीं।
पंजाब के मुख्य सचिव करण अवतार सिंह को मंत्रियों के साथ विवाद के बाद हटाया गया है। हाल ही में पंजाब के मंत्री मनप्रीत बादल, चरणजीत सिंह चन्नी और तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा का करण अवतार सिंह के साथ विवाद हुआ था, जिसके बाद इन मंत्रियों ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से करण अवतार सिंह को बर्खास्त करने की मांग की थी। इन मंत्रियों ने यहां तक कह दिया था कि अगर करण अवतार सिंह कैबिनेट बैठक में आए, तो वो हिस्सा नहीं लेंगे।
इसके बाद सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को करण अवतार सिंह को 11 मई की कैबिनेट बैठक से बाहर बैठने के लिए कहना पड़ा था। विनी महाजन पंजाब की मुख्य सचिव उस समय बनाई गई हैं, जब पंजाब समेत देशभर में कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है।
करण अवतार का रिटायरमेंट 31 अगस्त को है लेकिन पहले ही सरकार ने उनको राज्य के मुख्य सचिव पद से हटा दिया. माना जा रहा है कि उन्हें किसी कॉरपोरेशन या अथॉरिटी का चेयरमैन बनाया जाएगा। फिलहाल उनका तबादला स्पेशल चीफ सेक्रेटरी (गवर्नेंस रिफार्म्स एंड पब्लिक ग्रीवेंसिस) के पद पर किया गया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.