स्मार्ट सिटी कोतवाली का गृह मंत्री, नगरीय प्रशासन मंत्री ने किया भूमिपूजन, रायपुर के सांसद, महापौर, विधायक भी हुए शामिल

 

 

*आठ माह में हाईटेक कोतवाली भवन तैयार करेगा रायपुर स्मार्ट सिटी लि.

*स्मार्ट कोतवाली से अपराध नियंत्रण व अनुसंधान को मिलेगी नई दिशा- गृह मंत्री

*गुणवत्ता पूर्ण जीवन शैली व रोजगार सुलभ कराने नगरीय निकाय बढ़ा रहे हैं त्वरित कदम- नगरीय प्रशासन मंत्री

*माधव राव सप्रे व आरडी तिवारी स्कूल बनेंगे स्मार्ट स्कूल

रायपुर 20 फरवरी 2020। स्मार्ट सिटी कोतवाली के भूमिपूजन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने हाईटेक तकनीक से शहरी नागरिकों की सेवा, सुरक्षा व सुविधाओं के जरिए आम नागरिकों को मिल रही सुविधाओं का जिक्र करते हुए कहा कि उन्नत होते शहर में अति आधुनिक पुलिस नियंत्रण कक्ष व स्मार्ट कोतवाली से अपराध नियंत्रण व पुलिस अनुसंधान को नई दिशा मिलेगी। इस समारोह की अध्यक्षता कर रहे नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ. शिव कुमार डहरिया ने कहा कि राज्य शासन, शहर के हर नागरिक को गुणवत्ता पूर्ण जीवन, रोजगार, मूलभूत सुविधाएं व सरलता पूर्वक नागरिक सेवाएं मिल सके इसके लिए पूरी जिम्मेदारी के साथ कई योजनाओं व कार्यक्रमों का क्रियान्वयन रायपुर सहित सभी नगरीय निकायों में कर रही है। समारोह में रायपुर लोकसभा सांसद श्री सुनील सोनी, महापौर श्री एजाज ढेबर, रायपुर उत्तर विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री कुलदीप जुनेजा, नगर निगम लोककर्म विभाग के भारसाधक सदस्य श्री ज्ञानेश शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए रायपुर को सुविधा संपन्न अति आधुनिक स्मार्ट सिटी के रूप में पहचान दिलाने की बात कही। समारोह में रायपुर रेंज के पुलिस महानिदेशक श्री आनंद छावड़ा, रायपुर स्मार्ट सिटी के प्रबंध संचालक श्री सौरभ कुमार सहित बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक शामिल रहे।

ऐतिहासिक सिटी कोतवाली के कायाकल्प की महत्वपूर्ण योजना की जानकारी देते हुए रायपुर स्मार्ट सिटी के एमडी श्री सौरभ कुमार ने बताया कि वर्षों पुराने भवन का जीर्णाेद्धार कर भवन के पीछे 14 हजार वर्ग फुट में इस भवन का निर्माण होगा। इसके लिए 30 हजार वर्ग फुट में भूतल के साथ 6 मंजिल की हाईटेक इमारत बनेगी। इस भवन को अति आधुनिक व सुव्यवस्थित स्वरूप देकर इसे आम लोगों व पुलिस प्रशासन के लिए सर्वसुविधायुक्त बनाया जा रहा है। उन्होंने आगे बताया कि लगभग 6 करोड़ की लागत से निर्मित हो रहे इस भवन को 8 माह में पूर्ण करने का लक्ष्य रखकर रायपुर स्मार्ट सिटी मिशन मोड पर काम कर रही है।

अपने उद्धबोधन में महापौर श्री एजाज़ ढेबर ने कहा कि रायपुर स्मार्ट सिटी व नगर निगम मिलकर अपने शहर में विश्व स्तरीय सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने तेजी से काम कर रही है और सभी जनप्रतिनिधि व आम नागरिक मिलकर मोर रायपुर को स्वच्छता, पर्यावरण, सुरक्षा, शिक्षा, स्वास्थ्य, मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता जैसे हर मापदंड में सर्वाेच्च स्थान दिलाने में अपनी सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं। समारोह में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) श्री प्रफुल्ल ठाकुर, स्मार्ट सिटी के जीएम तकनीकी श्री एसके सुंदरानी, नगर निगम के अपर आयुक्त श्री लोकेश्वर साहू, स्मार्ट सिटी के मुख्य वित्त अधिकारी श्री अरविंद मिश्रा, जोन-4 कमिश्नर श्री चंदन शर्मा, जोन-7 कमिश्नर वीरेंद्र पांडेय सहित स्मार्ट सिटी के अधिकारी कर्मचारी, कई सामाजिक संगठनों के सदस्य व स्थानीय नागरिक शामिल हुए।
अपने उद्बोधन में सांसद श्री सुनील सोनी ने कहा कि शहर के विकास में संसाधनों की कमी नहीं है, अतः मूलभूत व उन्नत सुविधाओं की उपलब्धता हर नागरिक तक पहुंचे इसके लिए सुव्यवस्थित व त्वरित प्रयास मिलकर होने चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि स्मार्ट थाने से अपराधियों पर पुलिस कड़ाई से रोक लगाएगी और नागरिकों में सुरक्षा व अनुशासन की भावना भी जागृत होगी। उन्होंने इस बड़े प्रोजेक्ट को कम समय में पूरा करने के लिए काम कर रही रायपुर स्मार्ट सिटी की टीम को शुभकामनाएं देते हुए विश्वास व्यक्त किया की शहर के स्कूल, अस्पताल को भी हाईटेक बनाने नगरीय निकाय महती भूमिका का निर्वहन करेंगे। विधायक श्री कुलदीप जुनेजा ने स्मार्ट सिटी कोतवाली को शहर की जरूरत बताते हुए इसे यातायात प्रबंधन व अपराध नियंत्रण के लिए जरूरी बताया। उन्होंने अपराध नियंत्रण के दिशा में रायपुर पुलिस की त्वरित कार्यवाहियों की चर्चा करते हुए रायपुर पुलिस की इस मंच से सराहना भी की।
अपने उद्बोधन में नगरीय प्रशासन मंत्री डाॅ. डहरिया ने यह भी बताया कि शासन की सभी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे, इस सोच के साथ नगरीय निकाय तेजी से काम कर रही हैं। स्मार्ट सिटी कोतवाली के अलावा रायपुर में दो विद्यालय माधव राव सप्रे और आरडी तिवारी स्कूल को भी स्मार्ट स्कूल के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस अवसर पर गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने स्मार्ट पुलिसिंग की चर्चा करते हुए कहा कि तकनीकों के साथ पुलिस से नागरिकों का तालमेल बढ़ाने, बच्चों व महिलाओं की सोच के अनुरूप सभी थानो को एक सहयोगी की भूमिका के रूप में छत्तीसगढ़ पुलिस पूरी तत्परता से अपनी सेवाएं दे रही है। उन्होंने सभी नागरिकों से यातायात के नियमों के पालन करने व एक जागरुक नागरिक के रूप में दूसरों को भी प्रेरित करने की अपील की। इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम के अंत में शामिल अतिथियों व नागरिकों के प्रति आभार ज्ञापन एमआईसी सदस्य श्री ज्ञानेश शर्मा ने किया। इस अवसर पर समाज सेवी शुभांगी आप्टे, रेखा शर्मा, कई स्व-सहायता समूह की महिला सदस्य भी उपस्थित रहीं।

 

Spread the love