यहां BJP ने कांग्रेस के वोट में लगा ली सेंध……क्रास वोटिंग के बाद राजनांदगांव पंचायत अध्यक्ष पद पर बीजेपी का कब्जा…. देखिये इन जिलों में भी मिली भाजपा को जीत

राजनांदगांव 14 फरवरी 2020। रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, अंबिकापुर में एक के बाद एक बड़े जिला पंचायतों को गंवाने के बाद भाजपा को राजनांदगांव, जगदलपुर, बेमेतरा बालोद और कवर्धा में बड़ी राहत मिली। यहां ना सिर्फ भाजपा ने जीत दर्ज की, बल्कि कांग्रेस के वोट में सेंध लगाने में भी कामयाबी हासिल की। भाजपा की गीता साहू ने यहां जीत दर्ज की। हालांकि यहां कुल 24 सदस्य थे। परिणाम को देखें तो भाजपा के पक्ष में 12, कांग्रेस के पक्ष में 11 और एक निर्दलीय ने जीत दर्ज की थी।

अध्यक्ष चुनने के लिए भाजपा को बस 1 अतिरिक्त वोट की जरूरत थी, जबकि कांग्रेस को दो वोट की जरूरत थी। कांग्रेस के लिए चुनौती ये थी कि उसे ना सिर्फ निर्दलीय विप्लव साहू को अपने खेमे में करना था, बल्कि भाजपा का भी एक वोट तोड़ना पड़ता। चुनाव के पहले तक पूरा सस्पेंस था, लेकिन भाजपा ने अंकगणित का ऐसा चाल चला कि बिना किसी दिक्कत के भाजपा के पक्ष में पंचायत अध्यक्ष का पद आ गया।

भाजपा ने यहां 14 वोट हासिल किये, मतबल निर्दलीय के साथ-साथ कांग्रेस के एक सदस्य ने क्रास वोटिंग कर भाजपा के पक्ष में मतदान कर दिया। क्रास वोटिंग के बाद भाजपा ने पंचायत जिलाध्यक्ष के पद पर कब्जा किया।

जगदलपुर जिला पंचायत में भी भाजपा ने कब्जा कर लिया है। भाजपा की वेदवती कश्यप ने यहां जीत तर्ज की । भाजपा के यहां 11 सदस्य निर्वाचित हुए थे।

बेमेतरा में भी भाजपा का कब्जा रहा। बेमेतरा जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भाजपा की सुनीता साहू ने 2 वोट से जीत दर्ज की।

जिला पंचायत बालोद में कांग्रेस की सोना देवी निर्विरोध अध्यक्ष बनीं है। इधर जिला पंचायत उपाध्यक्ष के लिए कांग्रेस से मिथलेश नुरेटी ने नामांकन भरा है। वहीं भाजपा से पुष्पेंद्र चंद्राकर ने नामांकन दाखिल किया है।

जिला पंचायत कवर्धा में भाजपा प्रत्याशी सुशीला रामकुमार भट्ट निर्विरोध अध्यक्ष चुनी गई। कांग्रेस के पास उम्मीदवार नहीं है। अध्यक्ष पद की सीट एससी महिला के लिए आरक्षित है।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.