राज्यपाल ने वनवासी कल्याण आश्रम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदेव रामजी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया, ह्रदयाघात से निधन हो गया

रायपुर, 15 जुलाई 2020। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने वनवासी कल्याण आश्रम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदेव रामजी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। राज्यपाल ने अपने शोक संदेश में कहा है कि  जगदेव जी बाल्यकाल से ही वनवासी कल्याण आश्रम से जुड़े रहे और हमेशा वनवासियों के कल्याण के लिए कार्य करते रहे। उन्होंने अपना पूरा जीवन समाज के लिए समर्पित कर दिया। उनका जीवन हम सबके लिए प्रेरणादायी है। राज्यपाल ने उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है और शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

स्व. जगदेव रामजी उराँव बालासाहब देशपांडे के बेहद करीबी थे।और 1995 से लगातार अध्यक्ष थे।वनवासी कल्याण आश्रम देश भर में संचालित हैं और 11 करोड़ जनजाति वर्ग के लोगों को लाभान्वित कर रहा है। 73 वर्षीय स्व जगदेव रामजी उराँव का बेहद सम्मान था। उन्होंने पूरी ताक़त झोंक कर वनवासी क्षेत्रों में वनवासी कल्याण आश्रम का काम उच्चतम स्तर पर पहुँचाया था। ह्रदयाघात से उनका निधन तीन बजे हुआ, वे अपने कमरे में अचेत मिले थे।छत्तीसगढ़ संघ परिवार के लिए यह शोक का समय है।

Spread the love