कोरोना वैक्सीन पर गुड न्यूज़: इस देश की कंपनी ने तैयार किया विश्व का पहला कोरोना वैक्सीन, जानें कब होगा बाजार में उपलब्ध…

नईदिल्ली 9 नवंबर 2020. अमेरिका की फार्मास्युटिकल कंपनी Pfizer और जर्मन बायोटेक फर्म BioNTech की कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine News) ताजा क्लीनिकल ट्रायल में 90 प्रतिशत कारगर पाई गई है जो उम्मीद से भी बेहतर साबित हुई है. इतना ही नहीं, अगर सब कुछ ठीक रहा तो इसी महीने के आखिर तक कंपनी की वैक्सीन को बेचने की मंजूरी मिल सकती है। वैश्विक महामारी को रोकने के लिहाज से यह निश्चित तौर पर बहुत ही उम्मीद जगाने वाली खबर है. Pfizer अपने पार्टनर BioNTech के साथ कोरोना की वैक्सीन बना रही है. Pfizer अमेरिकन और BioNTech जर्मन दवा कंपनी है.

कोरोना वैक्सीन के डेवलपर्स फाइजर और बायोएनटेक का कहना है कि यह विज्ञान और मानवता के लिए महान दिन है. छह देशों में 43,500 लोगों पर उनके वैक्सीन का परीक्षण किया गया है और सुरक्षा को लेकर इस वैक्सीन पर सवाल नहीं उठाये गये हैं. वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों की यह योजना है कि वे इस महीने के अंत तक वैक्सीन के इमरजेंसी उपयोग के लिए सहमति प्राप्त कर लें. इस वैक्सीन को बेहतर उपचार के साथ हमारे जीवन पर लगाये गये प्रतिबंधों से बाहर निकलने का सबसे अच्छा तरीका बताया जा रहा है.

कंपनियों ने कहा कि वैक्सीन के परीक्षण के अंतिम चरणों में दर्जनों हैं, कई परीक्षण के तीसरे स्टेज में भी हैं, लेकिन वैक्सीन बनाने वाला यह पहला है. इस वैक्सीन के निर्माण में पूरी तरह एक्पेरिमेंटल एप्रोच का सहारा लिया गया है, जिसमें वायरस के जेनेटिक कोड शामिल हैं ताकि इम्यून सिस्टम बेहतर किया जा सके.

पिछले परीक्षणों में देखा गया है कि वैक्सीन शरीर में एंटीबॉडी बनाती और प्रतिरक्षा प्रणाली का एक हिस्सा जिसे टी-कोशिका कहते हैं कोरोना वायरस से लड़ता है. इस वैक्सीन का दो डोज दिया गया, जिसका अंतराल तीन सप्ताह का था. इस वैक्सीन का परीक्षण अमेरिका, जर्मनी, ब्राजील,अर्जेंटीना, साउथ अफ्रीका और टर्की में किया गया . दूसरे डोज को देने के एक सप्ताह बाद से व्यक्ति कोरोना के संक्रमण से 90 प्रतिशत सुरक्षित पाया गया है.

फाइजर के अध्यक्ष और सीईओ अल्बर्ट बोरला ने एक बयान में कहा कि हमारे तीसरे चरण के परीक्षण से कोविड -19 को रोकने के लिए हमारे टीके की क्षमता का पता चला है. साथ ही कंपनी की तरफ से कहा गया है कि आपूर्ति अनुमानों के आधार पर 2020 में वैश्विक स्तर पर 50 मिलियन वैक्सीन खुराक और 2021 में 1.3 बिलियन खुराक तक आपूर्ति करने की उम्मीद है.बताते चले कि भारत में पिछले 24 घंटों में 490 मरीजों की मौत हुई है. अब तक कोरोना से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 1,26,611 पर पहुंच गई है.

Spread the love