फॉर्म को लेकर उठ रहे सवालों पर ग्लेन मैक्सवेल का फूटा गुस्सा…कह दी ये बात…

दुबई 13 अक्टूबर 2020 आस्ट्रेलिया के आक्रामक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल  इंडियन प्रीमियर लीग  के आठ सत्र में अपने प्रदर्शन में निरंतरता की कमी के लिए अपनी भूमिका में लगातार बदलाव को जिम्मेदार ठहराया जबकि देश के लिए खेलते हुए उनकी भूमिका बिलकुल स्पष्ट होती है. किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) का यह बल्लेबाज इंग्लैंड के सफल दौरे के बाद आईपीएल (IPL 2020) में आया है. इंग्लैंड दौरे पर उन्होंने सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 90 गेंद में 108 रन की पारी खेलकर एलेक्स कैरी के साथ मिलकर टीम को श्रृंखला जिताने में अहम भूमिका निभाई. दुबई से पीटीआई से बात करते हुए विक्टोरिया के इस बल्लेबाज ने बताया कि कैसे आस्ट्रेलिया की ओर से खेलते हुए उन्हें अपनी क्षमता का अहसास हुआ और आईपीएल में उनके प्रदर्शन में निरंतरता की कमी का क्या कारण है.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं संभवत: ऐसा नहीं करूंगा (आईपीए और आस्ट्रेलिया करियर की तुलना). मैंने जिस तरह से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेला, यह मेरी स्पष्ट भूमिका के कारण था। मुझे पता है कि खिलाड़ी मेरे साथ किस भूमिका में बल्लेबाजी करेंगे. पिछले साल मानसिक स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दों से उबरने के बाद ऐसा लगता है कि मैक्सवेल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी सर्वश्रेष्ठ फार्म में हैं. हालांकि ऐसा आईपीएल प्रदर्शन के बारे में नहीं कहा जा सकता जहां वह मौजूदा सत्र में सात मैचों में 14.5 की औसत से 58 रन बनाए हैं. आस्ट्रेलिया की ओर से अपने प्रदर्शन की ओर से आईपीएल में हमेशा से मैक्सवेल की काफी मांग रही है और किंग्स इलेवन पंजाब ने इस बार उन्हें नीलामी 10 करोड़ 75 लाख लाख रुपये में खरीदा.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.