“हैलो मुझसे दोस्ती करोगी” कहकर कांड करने वाली लड़की गिरफ्तार……मदहोश कर देने वाली आवाज से पहले युवक को फंसाती… फिर शुरू होता ब्लैकमेलिंग का घिनौना खेल….लाखों लुटाने के बाद युवक ने कर ली थी खुदकुशी

जगदलपुर 28 दिसंबर 2020। “हैलो! मुझसे दोस्ती करोगे”…. मदहोश कर देने वाली आवाज में खोये एक युवक ने पहले तो अपने लाखों रुपये गंवा दिये और फिर अपनी जान भी गंवा दी। दोस्ती…आशिकी और अय्याशी का एक ऐसा स्याह सच सामने आया है…जिसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जायेंगे। मामला बस्तर का है। जगदलपुर के कुम्हारपारा के राहुल डे ने 7 जुलाई को खुदकुशी कर ली थी। अब इस मामले में 5 महीने बाद कोलकाता से एक युवती को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने जब इस सुसाइड केस की तहकीकात शुरू की तो युवक के मोबाइल पर कई नंबरों पर चैट और पैसे ट्रांजेक्शन की जानकारी आयी।

नम्बरों की जांच कर लोकेशन के आधार पर बस्तर पुलिस ने टीम गठित कर पश्चिम बंगाल भेजा, जहां सोनारपुर 24 परगनिया से मौसमी मंडल उर्फ माही नामक युवती को मोबाइल के आधार पर गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में युवती ने मृतक से चैट करने व पैसों की जालसाजी करने का जुर्म स्वीकार किया है।

कैसे देते हैं घटना को अंजाम

जगदलपुर सीएसपी हेमसागर सिदार ने अरोपिया युवती से पूछताछ की जानकारी देते हुए बताया कि आरोपियों का एक गैंग है जिसमें तीन युवक व तीन युवतियां शामिल हैं। इनके द्वारा फॉरेवर फ्रेंडशिप नामक ऑनलाइन वेबसाइट बनाया गया है , जिसके माध्यम से युवाओं को मैसेज भेजे जाते हैं। मैसेज देखकर भोलेभाले युवा इनके जाल में फंस जाते हैं फिर उनसे रजिस्ट्रेशन के नाम पर पैसों की मांग की जाती है। जगदलपुर के युवक राहुल डे जिसके पिता हलवाई का काम करते हैं, उनके द्वारा भी इनके जाल में फंसकर 8 लाख 60 हजार रुपये गंवा दिए गए। राहुल को जब पैसे वापस मिलने की उम्मीद खत्म हो गई तो उसने डरकर आत्महत्या कर लिया।

ठगी के पैसों से जीते थे रईसों वाली जिंदगी

इस तरह की ऑनलाइन ठगी का बस्तर में यह पहला मामला है। मामले को सुलझाने के बाद हालांकि अब तक एक ही गिरफ्तारी हो पाई है पर पूछताछ में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। जिस अरोपिया मौसमी मंडल को गिरफ्तार किया गया है, उसने बताया कि उनका प्रेमी प्रेमिकाओं का तीन जोड़ा इस काम को अंजाम देता था। युवाओं को अपनी जाल में फंसाने के बाद उनसे उसूली गई रकम से ये जोड़े बड़े बड़े होटलों में जाकर अय्याशी किया करते थे। दरअसल गिरफ्तार की गई युवती बहुत ही गरीब परिवार से है, उसके पिता ड्राइवर हैं और माँ कपड़े के मिल में काम करती है। बेहद गरीबी में जीवन यापन करने वाली युवती को आलीशान जीवन जीने की तमन्ना ने इस रास्ते तक पहुंचाया।

Spread the love