राजधानी में गैंगरेपः तीन आरोपियों ने कार में किया सामूहिक दुष्कर्म, गर्भवती होने के बाद भी दोबारा से दिया घटना को अंजाम

रायपुर 31 दिसंबर 2020। राजधानी से एक शर्मनाक खबर सामने आई है यहां पर एक नाबालिग के साथ तीन आरोपियों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। तीनों आरोपियों ने पीड़िता को काम दिलाने का झांसा देकर उसके साथ बारी- बारी से गैंग रेप किया। जब इससे भी इन आरोपियों का दिल नहीं भरा तो नाबालिग के गर्भवती होने के बाद भी फिर से उसी घटना को अंजाम दियापीड़िता की शिकायत के बाद अब तीनों आरोपियों को  पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

दरअसल घटना नया रायपुर के राखी थाना क्षेत्र की है। पीड़िता नाबालिग मरौदा गांव के एक करोबारी के घर में काम करती थी। जहां पर तीनों आरोपी तरूण पाटिल, राजेश और परसराम साहू का आना जाना लगा रहता था। इस दौरान तीनों ने नाबालिग लड़की को काम दिलाने का झांसा दिया और उसे अपने साथ टीयूवी कार में नया रायपुर ले गये। यहां पर तीनों ने उसके साथ बारी-बारी से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद तीनों आरोपियों ने नाबालिग को जान से मारने और किसी को बताने पर बदनाम करने की धमकी दी। लोक लज्जा के डर से नाबालिग ने इस बात की किसी को जानकारी नहीं दी, जिसके बाद नाबालिग गर्भवती हो गयी। इस बात की जब नाबालिग के परिजनों को जानकारी हुई तो तब इस पूरे मामले का खुलासा हुआ। खुलासे के बाद पीड़िता के परिजन आरोपियों के घर पहुंचे और इसकी शिकायत की गई तो आरोपियों ने नाबालिग से शादी करने बात कहकर मामले को दबाने की कोशिश की।
इसके बाद  मामला शांत होने के बाद आरोपियों ने फोन करके पीड़िता को 24 दिसंबर को धमतरी बुलाया और अपनी कार से फिर से उसे नया रायपुर लेकर आये। यहां पर फिर से तीनों आरोपियों ने पीड़िता के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। घटना के दौरान पीड़िता गर्भवती थी। इधर आरोपियों के द्वारा बार-बार दुष्कर्म करने से नाबालिग परेशान थी, जिसके बाद उसने इस बारे में इसकी शिकातय राखी थाने में दर्ज करायी। पीड़िता की शिकायत के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुये राखी पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया। फिलहाल तीनों आरोपियों के खिलाफ थाने में पाक्सो एक्ट, सामूहिक दुष्कर्म और अपहरण का मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Spread the love