टीवी पत्रकार निधि राजदान से नौकरी के नाम पर ठगी…..ऑफर लेटर मिलने पर NDTV से दे दिया था इस्तीफा….अब मालूम पड़ा फर्जी था ऑफर लेटर

नई दिल्ली 16 जनवरी 2021।टीवी पत्रकार ठगी का शिकार हो गयी है। ऑनलाइन ऑफर के तहत उन्हें हावर्ड में जर्नलिज्म प्रोफेसर की जो पोस्ट ऑफर की गयी थी, वो फर्जी निकली। इसी नौकरी की वजह से पत्रकार निधि राजदान ने NDTV से रिजाइन कर दिया था। एनडीटीवी की पूर्व पत्रकार निधि राजदान ने शुक्रवार को ट्वीट करके उनके साथ हुए बेहद गंभीर ऑनलाइन फर्जीवाड़े का खुलासा किया है. राजदान को हाल ही में पता चला है कि उन्हें हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता की पढ़ाई कराने का जो ऑफर दिया गया था, वह फर्जी है. राजदान ने पिछले साल एनडीटीवी में अपने 21 साल के करियर को अलविदा कह दिया था, ताकि वे हार्वर्ड में जाकर अध्यापन कार्य कर सकें.

निधि राजदान ने ट्विटर पर अपने बयान में कहा, मुझे यह यकीन दिलाया गया था कि वह सितंबर में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में अध्यापन कार्य शुरू करने वाली हैं. लेकिन जब वह अपनी नई जॉब के लिए तैयारी भी कर रही थीं तो उन्हें बताया गया कि कोरोना की महामारी के कारण कक्षाएं जनवरी में शुरू होंगी. निधि राजदान का कहना है कि हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पत्रकारिता की पढ़ाई करने के ऑफर में हो रही देरी को लेकर कुछ गड़बड़ी का आभास उन्हें हो गया था, लेकिन उन्हें बताया गया था कि प्रशासनिक विसंगतियों के कारण ऐसी देरी हो रही है.

राजदान ने कहा, पहले मैंने इन विसंगतियों को यह कहकर टाल दिया कि महामारी के असर के कारण ऐसा हो रहा है. लेकिन हाल ही में उनके समक्ष जो रिप्रंजेंटेशन दिया गया था, वह और भी बेचैन करने वाला था. नतीजा यह हुआ कि उन्होंने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क साधा. उनके अनुरोध पर राजदान ने जॉब को लेकर पहले हुए संवाद का ब्योरा उन्हें दिया, जिसे उन्हें यही समझा था कि वे आधिकारिक तौर पर यूनिवर्सिटी के द्वारा भेजे गए हैं.

Spread the love