पूर्व मंत्री चनेशराम राठिया का निधन, पुत्र भी है संसदीय सचिव.. सीएम भूपेश ने दी श्रद्धांजलि..ट्विट कर लिखा- सच्चे जनसेवक के रूप में सदैव याद किया जाएगा

रायपुर 14 सितम्बर 2020. धरमजयगढ़ विधायक लालजीत राठिया के पिता कांग्रेस के कद्दावर नेता चनेश राम राठिया का देर रात निधन हो गया है। चनेश राम राठिया कई महीनों से बीमार थे। रविवार को उनका स्वास्थ्य बिगड़ गया। जिसके बाद उन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां देर रात इलाज के दौरान उन्होंने अतिंम सांस ली। उन्हे प्रदेश की राजनीति का भीष्म पितामह कहा जाता था।

स्वर्गीय राठिया  छग व अविभाजित मध्यप्रदेश में आदिवासियों के कद्दावर नेता थे, मध्यप्रदेश व छग शासन में मंत्री रहे चनेश राम राठिया धरमजयगढ़ विधानसभा से छह बार विधायक रहे। राठिया बेबाक टिप्पणी के लिए खासतौर पर जाने जाते थे उनके निधन से लोगोंं और राजनीतिक पार्टियों में शोक की लहर व्याप्त है। पूर्व मंत्री राठिया पूरे छत्तीशगढ़ और मध्यप्रदेश में बहुत ही लोक प्रिय थे।

प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी चनेश राम राठिया के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

Spread the love