comscore

पूर्व IPS गिरफ्तार : CM योगी के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान कर आये थे चर्चा में… पुलिस ने किया हाउस अरेस्ट

लखनऊ 21 अगस्त 2021. लखनऊ से पूर्व IPS अफसर अमिताभ ठाकुर को पुलिस ने हाउस अरेस्ट कर लिया है। अमिताभ ने एक हफ्ते पहले ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। ACP ने कहा कि वह एक गंभीर मामले में आरोपी हैं। इसलिए उन्हें शहर से बाहर जाने से रोका गया है। अब उनसे पूछताछ भी शुरू हो गई है। इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट के जारिए दी। वहीं पुलिस का कहना है कि उन्हें केवल गोरखपुर जाने से रोका गया है।

अमिताभ ठाकुर शनिवार सुबह ट्वीट कर जानकारी दी कि उन्हें गोरखपुर जाने से रोका गया है। पुलिस घेरे में रखा गया है। उनकी पुलिस से बातचीत चल रही है। पुलिस का कहना है कि उन पर रेप आरोपी का साथ देने का आरोप है। आरोपों की जांच चल रही है। कमेटी ने गंभीर आरोप की जांच के लिए इन्हें तलब किया है। कमेटी के सामने इन्हें पेश होना है। इससे पहले इन्हें लखनऊ से बाहर जाने से रोका गया था। खासकर उस रीजन में जो आरोपी, पीड़िता या घटनास्थल से जुड़ा हुआ हो। बावजूद इसके इन्होंने प्रतिबंध का उलंघन किया।

आपको बता दें कि अमिताभ ने एक हफ्ते पहले सीएम योगी के खिलाफ यूपी विधानसभा 2022 चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। वह सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनावी जनसंपर्क के लिए गोरखपुर जा रहे थे। इस बीच उन्हें एसीपी गोमतीनगर ने आकर रोक लिया। अमिताभ ठाकुर फिलहाल आईजी रूल्स एंड मैनुअल के पद जबरन रिटायर किया गया था। अमिताभ ठाकुर 1992 बैच के आईपीएस हैं।

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!