npg

नई कैबिनेट का गठन कल: 27 मंत्री लेंगे शपथ, सभी नए चेहरे… 1.30 बजे शपथ समारोह

नईदिल्ली 15 सितम्बर 2021. गुजरात में भूपेंद्र पटेल सरकार नए मंत्री गुरुवार को पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। चर्चा है क‍ि भूपेंद्र पटेल सरकार में कुल 27 मंत्री शपथ शपथ लेंगे, जो क‍ि नए चेहरे होंगे। मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह राजधानी गांधीनगर में दोपहर डेढ़ बजे होगा। हालांक‍ि नए मंत्रियों के नामों की […]

Spread the love

नई कैबिनेट का गठन कल:  27 मंत्री लेंगे शपथ, सभी नए चेहरे… 1.30 बजे शपथ समारोह
X

नईदिल्ली 15 सितम्बर 2021. गुजरात में भूपेंद्र पटेल सरकार नए मंत्री गुरुवार को पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। चर्चा है क‍ि भूपेंद्र पटेल सरकार में कुल 27 मंत्री शपथ शपथ लेंगे, जो क‍ि नए चेहरे होंगे। मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह राजधानी गांधीनगर में दोपहर डेढ़ बजे होगा। हालांक‍ि नए मंत्रियों के नामों की अभी तक घोषणा नहीं की गई है। 27 नए विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की शपथ के 2 दिन बाद आज मंत्रिमंडल का गठन किया जाना था, लेकिन इससे पहले टीम के कुछ साथी नाराज बताए गए।

पहले दोपहर 2 बजे होने वाला कार्यक्रम शाम के लिए टाला गया। अब यह गुरुवार को दोपहर 1:30 बजे होगा। भूपेंद्र पटेल की नई टीम को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी, डिप्टी CM नितिन पटेल नाराज बताए जा रहे हैं। दरअसल, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल पूरा मंत्रिमंडल नया चाहते हैं। कैबिनेट में महिलाओं की संख्या भी बढ़ाई जा सकती है। विजय रुपाणी सरकार में शामिल रहे 11 कैबिनेट मंत्रियों में से सिर्फ दिलीप ठाकोर, गणपत वसावा और जयेश राडाडिया को ही नए मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की उम्मीद है।

जानकारी के मुताबिक, भूपेंद्र पटेल सरकार की नई कैबिनेट में 21 से 22 मंत्रियों को बुधवार को मंत्री पद की शपथ दिलाई जानी थी. मंत्रिमंडल में नए चेहरों को प्राथमिकता दी जाएगी और महिलाओं की संख्या भी बढ़ाई जा सकती है. ऐसे में कई पुराने और दिग्गज नेताओं की कैबिनेट से छुट्टी भी होगी. जातीय समीकरण को बिठाने के साथ साफ-सुथरी छवि के नेताओं को मंत्रिमंडल में खास तवज्जो दिए जाने की रणनीति है.

मंत्रिमंडल में बदलाव से पहले ही कुछ विधायक पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के आवास पर पहुंच गए थे. मिली जानकारी के मुताबिक, ईश्वर पटेल, ईश्वर परमार, बचु खाबड़, वासण आहीर, योगेश पटेल पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के आवास पर पहुंचे थे. माना जा रहा है की मंत्री ना बनाए जाने की वजह से नाराज विधायक उनसे मिलने पहुंचे.

विजय रुपाणी के इस्तीफे के बाद बीजेपी के दिग्गज नेता नितिन पटेल, भूपेंद्र सिंह चुडास्मा, आरसी फाल्दू और कौशिक पटेल के सियासी भविष्य को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं. भूपेंद्र पटेल के सीएम बनने से डिप्टी सीएम नितिन पटेल की कुर्सी पर खतरा मंडरा रहा है. क्योंकि भूपेंद्र पटेल और नितिन पटेल दोनों पाटीदार समुदाय से हैं. सीएम और डिप्टी सीएम दोनों ही पद पर एक ही समाज को देने की संभावना कम है.

Next Story