फेडरेशन 4 सूत्रीय मांगों को पूरा कराने 90 विधायकों को सौंपेगा ज्ञापन……. रविवार को सभी विधायकों से मिलकर फेडरेशन का प्रतिनिधिमंडल रखेगा अपनी मांग….बजट सत्र के पहले एक्शन में फेडरेशन

रायपुर 15 फरवरी 2020। छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के राजनांदगांव जिलाध्यक्ष शंकर साहू ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि प्रदेश के सहायक शिक्षको की समस्याओं के सम्बंध में समय समय पर शासन प्रशासन को अवगत कराया जाता रहा है, परन्तु अब तक किसी भी प्रकार की पहल शासन द्वारा नहीं की गईं है। फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा व प्रांतीय बैठक के निर्णयानुसार 4 सूत्रीय मांगों को पूरा कराने प्रदेश के सभी 90 विधायकों को कल दिनांक 16 फरवरी 2020 को ज्ञापन सौंपकर बातचीत किया जायेगा,ताकि बजट में मांगों को पूरा करने हेतु निर्णय लिया जा सकें।

छत्तीसगढ़ प्रदेश में एक लाख नौ हजार, सहायक शिक्षक अपनी सेवा दे रहे हैं। सहायक शिक्षकों की निम्नलिखित समस्याएं है…
1. प्रदेश में सहायक शिक्षक जो कि विगत 22 वर्ष से एक ही पद पर कार्य करने के बाद भी संविलियन के दौरान वेतन विसंगति की सौगातछत्तीसगढसके परिणाम स्वरूप सहायक शिक्षको के वेतन में बड़े पैमाने में विसंगति निर्मित हो गई है अतः प्रथम नियुक्ति तिथि से सही गणना कर वेतन विसंगति को दूर किया जाए।
2 राज्य सरकार के घोषणा पत्र के अनुसार समस्त पंचायत संवर्ग के शिक्षकों का शिक्षा विभाग में संविलियन किया जाए।
3. अनुकम्पा नियुक्ति हेतु राज्य सरकार एक मजबूत निर्णय ले, जिससे हजारो अनुकम्पा नियुक्ति के आवेदनों का निराकरण किया जा सके।*
4. राज्य सरकार शिक्षा विभाग में नई नियुक्ति से पूर्व हजारो सहायक शिक्षक जो वर्षो से सेवा देते आ रहे है, उनकी पूर्व सेवा अवधि को जोड़कर उनको पदोन्नति या उच्चत्तर वेतनमान प्रदान करने हेतु आगामी बजट में शामिल करने की कृपा करेगे।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के नाम से पूरे प्रदेश में छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन की 04 सूत्रीय मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार करते हुए बजट 2020 में पूरा करने हेतु सभी 90 विधायकों से निवेदन सह बातचीत किया जायेगा।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.