दर्दनाक: चार बच्चों की हत्या कर पिता ने लगाई फांसी: पहले बच्चों की गला रेत कर की हत्या फिर खुद को पेड़ से लटकाया…

नईदिल्ली 10 फरवरी 2021. राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ थाना क्षेत्र में बुधवार को एक व्यक्ति ने कथित तौर पर अपने चार बच्चों की गला रेत कर हत्या करने के बाद फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. गांव में एक साथ पांच लोगों की मौत के बाद गांव में गम का माहौल बना हुआ है.
गांव के 40 वर्षीय बाबूलाल का शव बुधवार सुबह घर के बाहर पेड़ पर लटका हुआ मिला। सुबह लोगों ने शव पेड़ पर लटका हुआ देखा तो बाद में वे घर के अंदर गए जहां बाबूलाल के चार बेटों 8 वर्षीय राकेश, 6 वर्षीय मांगीलाल, 4 साल के विक्रम और 2 साल के गणेश के शव पड़े थे। ग्रामीणों ने घटना की पुलिस को सूचना दी।
पुलिस और फोरेंसिक लैब की टीम मौके पर पहुंची। पुलिस के अनुसार बच्चों की हत्या किसी तार जैसी चीज से गला घोंटकर की गई हैं। मौके से सुसाइट नोट नहीं मिला है। प्रारंभिक जांच में पुलिस का यही मानना है कि बाबूलाल ने पहले चारों बच्चों की हत्या की और फिर खुद ने फांसी लगा ली। ऐसा उसने क्यों किया इसके बारे में जानकारी के लिए बाबूलाल के रिश्तेदारों व ग्रामीणों से पूछताछ की जा रही है।
ग्रामीणों ने बताया कि जब वे घर के अंदर गए तो पहले तो यह लगा कि चारों बच्चे सो रहे हैं, लेकिन पास में जाकर देखा तो उनके शव होने की बात सामने आई। मृतक बाबूलाल की पत्नी अभी गुजरात में मजदूरी करने गई हुई है। पुलिस ने सूचना देकर उसे गांव बुलाया है।
जानकारी के अनुसार पुलिस को कुछ सुराग मिले हैं। ग्रामीणों का कहना है कि बाबूलाल को शराब पीने की आदत थी, जिसके कारण उसका लगातार पत्नी से झगड़ा होता रहता था। वह पत्नी और बच्चों से मारपीट करता था। पिछले माह उसने पत्नी को घर से निकाल दिया था, जब से वह गुजरात में मजदूरी कर रही है। गांव के सरपंच पारसिंह ने बताया कि बाबूलाल ने पिछले साल अपनी मां को भी मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया था। सरपंच का कहना है कि यह बात पक्की है कि बाबूलाल ने ही बच्चों की हत्या की और फिर खुद ने फांसी लगा ली।

Spread the love