npg

फर्जी लेडी IAS गिरफ्तार : 2020 बैच का खुद को बताती थी IAS ……बॉडीगार्ड से लेकर नौकर व बंगला व गाड़ी पर लगा रखा असिस्टेंट कलेक्टर का प्लेट

रांची 25 जुलाई 2021। एक ऐसी फर्जी महिला  को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जो खुद को IAS बताती थी। सरकारी गाड़ी, बॉडीगार्ड सहित रूतबा ऐसा था कि किसी को शक तक नहीं होता, कि वो IAS अफसर नहीं है। मध्यप्रदेश की रहन वाली इस लड़की का नाम मोनिका है, जो खुद 2020 बैच का […]

Spread the love

फर्जी लेडी IAS गिरफ्तार : 2020 बैच का खुद को बताती थी IAS ……बॉडीगार्ड से लेकर नौकर व बंगला व गाड़ी पर लगा रखा असिस्टेंट कलेक्टर का प्लेट
X

रांची 25 जुलाई 2021। एक ऐसी फर्जी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जो खुद को IAS बताती थी। सरकारी गाड़ी, बॉडीगार्ड सहित रूतबा ऐसा था कि किसी को शक तक नहीं होता, कि वो IAS अफसर नहीं है। मध्यप्रदेश की रहन वाली इस लड़की का नाम मोनिका है, जो खुद 2020 बैच का झारखंड कैडर का अफसर बताती थी। मोनिका खुद को जमशेदपुर की असिस्टेंट कलेक्टर बताती थी।

मोनिका ने रांची के सबसे पॉश कॉलोनी अशोकनगर में एक मकान किराये पर ले रखा था। उसने मेन गेट पर अपने नाम की नेम प्लेट भी लगा रखी थी। नेम प्लेट में उसने खुद को जमशेदपुर की असिस्टेंट कलेक्टर बताया था। मोनिका जिस गाड़ी का इस्तेमाल कर रही थी, उस पर असिस्टेंट कलेक्टर, जमशेदपुर का बोर्ड लगा था।फर्जी न लगे इसलिए वह अपने साथ बॉडीगार्ड, सरकार की लोगा के साथ असिस्टैंट कमिश्नर लिखी व सरकार की लोगो लगी कार और रसोईया भी रखती थी। वह अपने मकानमालिक व पड़ोसियों को बताती थी कि असिस्टेंट कलेक्टर के रूप में वह जमशेदपुर में पोस्टेड हैं।

इधर, हाल में वह घर में ही रही थी। इससे मकानमालिक को उसकी गतिविधियां संदिग्ध लगी। पूछने पर बताई थी उसकी छुट्टी चल रही, इसलिए वह जमशेदपुर नहीं जा रही थी।शक होने पर इसकी सूचना पुलिस को दी गई। इसके बाद अरगोड़ा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और मोनिका को हिरासत में ले लिया गया। उससे पूछताछ करने पर सारा भंडाफोड़ हो गया। पुलिस ने मोनिका के खिलाफ एफआइआर दर्ज की है। उसे शनिवार को जेल भेजा जाएगा।

मोनिका ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि वह दिल्ली स्थित विजन आइइएस कोचिंग सेंटर से आइएएस की तैयारी कर रही थी। इधर, ठसक दिखाने के लिए और अपने रिश्तेदारों को दिखाने के लिए फर्जी आइएएस बनकर घूम रही थी। हालांकि पुलिस उसकी मंशा का पता लगा रही है।

मोनिका मध्यप्रदेश के कटनी की रहने वाली है। मोनिका की मां पुष्पलता अग्निहोत्री का कहना है कि उन्होंने बेटी को IAS की कोचिंग के लिए दिल्ली भेजा था, वह रांची कैसे पहुंच गई नहीं पता। उसके पिता शेषमणि अग्निहोत्री ने कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया है। उसके पिता बड़वारा के शासकीय स्कूल में प्रधानाध्यापक और मां उसी स्कूल में लिपिक हैं।

Next Story