npg
Exclusive

किसान की आकस्मिक मौत की दण्डाधिकारी जांच शुरू... कलेक्टोरेट के कमरा नम्बर 17 में लिए जाएंगे साक्ष्य और कथन, दो सहयोगी अधिकारी भी नियुक्त

किसान की आकस्मिक मौत की दण्डाधिकारी जांच शुरू... कलेक्टोरेट के कमरा नम्बर 17 में लिए जाएंगे साक्ष्य और कथन, दो सहयोगी अधिकारी भी नियुक्त
X

रायपुर 15 मार्च 2022/ नवा रायपुर में एनआरडीए भवन के पास आंदोलनरत किसानों के साथ मौजूद किसान सियाराम पटेल की दुखद मौत की दण्डाधिकारी जांच शुरू हो गई है। कलेक्टर सौरभ कुमार ने इस जांच के लिए अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी एन आर साहू को जांच अधिकारी नियुक्त किया है। किसान की आकस्मिक मौत के संबंध में गवाहों के साक्ष्य, बयान और दस्तावेज रायपुर कलेक्टोरेट कार्यालय के कमरा नम्बर 17 में अगले 10 दिनों तक लिए जाएंगे। कलेक्टर सौरभ कुमार ने जांच में सहयोग के लिए संयुक्त कलेक्टर डॉ. सुभाष सिंह राज और डिप्टी कलेक्टर अतुल विश्वकर्मा को सहयोगी अधिकारी भी नियुक्त कर दिया है।

जांच अधिकारी और एडीएम एनआरसाहू ने जन सामान्य को सूचित करते हुए कहा है कि नवा रायपुर में एनआरडीए भवन के पास 11 मार्च 2022 को ग्राम बरोंदा, थाना माना निवासी सियाराम पटेल की आकस्मिक मृत्यु के संबंध में आमजन, संस्था या व्यक्ति अपना बयान एवं अन्य साक्ष्य 24 मार्च 2022 तक प्रस्तुत कर सकते है। कार्यालयीन समय हर रोज 24 मार्च तक में अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी कार्यालय कमरा नम्बर 17 कलेक्टोरेट कार्यालय में यह कार्रवाई संचालित होगी। किसान सियाराम पटेल की मृत्यु के कारण और परिस्थितियों सहित जांच अधिकारी के द्वारा तय अन्य बिन्दुओं पर जांच की जा रही है। कलेक्टर ने जांच अधिकारी को जल्द से जल्द जांच पूरी कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है।

उल्लेखनीय है कि 11 मार्च को ग्राम बरौदा थाना माना निवासी सियाराम पटेल की नवा रायपुर में एन आर डी ए भवन के पास आंदोलनरत किसानों के साथ मौजूदगी के दौरान आकस्मिक मृत्यु हो गई है। मृत्यु के कारणों की दण्डाधिकारिक जांच के आदेश कलेक्टर सौरभ कुमार 12 मार्च को ही दे दिए थे।

Next Story