npg
Exclusive

दादा साहेब फाल्के सम्मान: सबसे बड़ा सम्मान मिला बॉलीवुड की इस दिग्गज अभिनेत्री को, जानिए उनके बारे में...

दादा साहेब फाल्के सम्मान: सबसे बड़ा सम्मान मिला बॉलीवुड की इस दिग्गज अभिनेत्री को, जानिए उनके बारे में...
X

NPG डेस्क। दादा साहेब फाल्के पुरस्कार की घोषणा कर दी गई है। ये सम्मान बॉलीवुड के दिग्गज आशा पारेख को दिया जाएगा। इसकी घोषणा केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने की। 30 अक्टूबर को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के हाथों दिया जाएगा। यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने वाली वह 52वीं हस्ती होंगी। 60-70 के दशक में अपनी खूबसूरती और अभिनय से फैंस के दिलों पर राज करने वालीं आशा पारेख को ये सम्मान बॉलीवुड में उनके अतुलनीय योगदान के लिए दिया जा रहा है।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि दादा साहेब फाल्के कमेटी के सदस्यों में मशहूर गायिका आशा भोंसले, अभिनेत्री हेमा मालिनी, अभिनेत्री पूनम ढिल्लो और गायक उदित नारायण झा शामिल हैं। इन सभी ने मिलकर कमेटी की बैठक की और आशा पारेख को चुना गया।

बता दें कि दादा साहब फाल्के पुरस्कार को भारतीय सिनेमा के क्षेत्र में सर्वोच्च सम्मान माना जाता है। भारतीय सिनेमा जगत आज जिस मुकाम पर है इसे वहां तक लाने में आशा पारेख का बहुत बड़ा योगदान रहा है।

आशा पारेख हिंदी सिनेमा की एक ऐसी अभिनेत्री हैं, जिन्होंने 10 साल की उम्र में फिल्मों में काम करना शुरू किया था। उन्होंने साल 1952 में रिलीज हुई फिल्म 'मां' से चाइल्ड एक्टर के तौर पर कदम रखा था। इसके बाद बाल कलाकार के रूप में ही उन्होंने आसमान, धोबी डॉक्टर, बाप बेटी जैसी फिल्मों में काम किया। साल 1959 में उन्होंने शम्मी कपूर के अपोजिट फिल्म 'दिल देके देखो' से बॉलीवुड में बतौर लीड एक्ट्रेस के काम किया। इस फिल्म में आशा पारेख को काफी पसंद किया गया। इसके बाद वेटरन एक्ट्रेस ने कभी पीछे पलट कर नहीं देखा और उन्होंने तीसरी मंजिल, प्यार का मौसम, मेरा गांव मेरा देश जैसी सुपरहिट फिल्में दी।

उन्होंने पंजाबी, गुजराती और कन्नड़ फिल्मों में भी काम किया। उन्होंने अपनी खुद की प्रोडक्शन कंपनी भी लॉन्च की थी और टीवी शोज भी बनाए। उन्हें साल 1992 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। अनुराग ठाकुर ने आशा के बारे में कहा, 'उन्होंने 95 से ज्यादा फिल्मों में काम किया और 1998 से 2001 तक केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) की अध्यक्ष रहीं।'




Next Story