आबंटन के बाद भी नहीं मिला शिक्षाकर्मियों को वेतन…. बीईओ-सीईओ की लापरवाही की भेंट चढ़े शिक्षाकर्मी…. राखी के पहले जारी हुआ था राज्य से आंबटन लेकिन फिर भी नही मिला वेतन!

रायपुर 13 अगस्त 2020. स्कूल शिक्षा विभाग के निचले स्तर के अधिकारियों की नजर में शायद सरकार और उच्च स्तर के अधिकारियों के आदेश की कोई कीमत ही नहीं है। शायद यही कारण है कि जिस मुद्दे पर सरकार और आला अधिकारी संजीदगी दिखाते हुए तत्काल कार्यवाही करते हैं उसी मुद्दे पर निचले स्तर के अधिकारी जानबूझकर लेटलतीफी करते हैं और इसका खामियाजा शिक्षकों को भुगतना पड़ता है। यही नहीं इसकी वजह से सरकार की छवि बार-बार खराब होती है।

शिक्षाकर्मियों का वेतन समय पर न मिल पाना कोई नई बात नहीं है , यह समस्या लंबे समय से चली आ रही है । राज्य कार्यालय से आवंटन न आने के कारण वेतन भुगतान ना हो पाना तो समझ में आता है लेकिन उच्च कार्यालय से लगातार आंबटन जारी होने के बाद भी शिक्षाकर्मियों को समय पर वेतन न मिल पाना यह बताता है कि समस्या ऊपर नहीं बल्कि नीचे है।

शिक्षाकर्मियों के संगठन संविलियन अधिकार मंच के प्रदेश संयोजक विवेक दुबे ने पूरे प्रदेश से जानकारी एकत्र कर राखी से ठीक पहले विभाग के आला अधिकारियों को पूरी स्थिति से अवगत कराया था और उनसे आबंटन के लिए गुहार लगाई थी जिसके बाद आनन-फानन में अधिकारियों ने आबंटन भी जारी कर दिया था और जुलाई तक आबंटन सभी निकायों का जारी हो चुका है।

बावजूद इसके प्रदेश के ऐसे बहुत से ब्लॉक है जहां पर अभी भी वेतन भुगतान नहीं किया गया है। एक बार फिर शिक्षाकर्मियों की तरफ से प्रदेश संयोजक विवेक दुबे ने ट्वीट करके सरकार को इसकी जानकारी दी है साथ ही आम शिक्षाकर्मियों ने भी अपना दुखड़ा ट्वीट के जरिए सरकार को बताया है। अब देखना होगा कि पिछले बार एलआईबी को एक्टिव करने वाली सरकार इस मुद्दे को लेकर क्या कार्रवाई करती है क्योंकि अब आबंटन जारी करने के बाद भी जानबूझकर अधिकारियों की लापरवाही के चलते सरकार की भी किरकिरी हो रही है ।

आबंटन के बाद भी नहीं मिल पा रहा है शिक्षाकर्मियों को वेतन – विवेक दुबे

प्रदेश के उच्च अधिकारियों को हमने पूरी स्थिति से अवगत कराया था और उसके बाद आला अधिकारियों ने तत्काल आंबटन भी जारी कर दिया था बावजूद इसके बहुत से ब्लॉक में अभी भी वेतन का भुगतान नहीं किया गया है राखी के लिए पहले आंबटन इसीलिए जारी किया गया था ताकि शिक्षाकर्मियों को वेतन मिल सके लेकिन आज राखी गुजरने के 15 दिन बाद भी कई ब्लॉक में वेतन नहीं दिया गया है इससे समझा जा सकता है कि स्थानीय कार्यालयों का रवैया कैसा है , हमने सरकार को एक बार फिर अवगत कराया है पूरी वस्तुस्थिति से और हमें उम्मीद है कि जवाबदेही अवश्य तय होगी – विवेक दुबे, प्रदेश संयोजक, संविलियन अधिकार मंच

इन ब्लॉक में नही मिला है अभी तक वेतन

पिथौरा, बिल्हा, बोड़ला ,नारायणपुर , छुईखदान, बस्तर, लोहंडीगुड़ा, वाड्रफनगर, दुलदुला ,सारंगढ़, बसना, बलौदा, बागबाहरा, अंबागढ़, छिंदगढ़ ब्लॉक में जुलाई का वेतन नही मिला है ।
RMSA के अंतर्गत मनेन्द्रगढ़ और नवागढ़ में जुलाई माह का वेतन वहीं पाली और बस्तर ब्लॉक में जून और जुलाई माह का वेतन नही दिया गया है। नगरी निकाय के अंतर्गत धमतरी , मारो , गौरेला , तखतपुर में जुलाई के वेतन नही दिया गया है। SSA के अंतर्गत सरायपाली में जून और जुलाई का वही मनेन्द्रगढ़ में जुलाई का वेतन नही दिया गया है ।

 

Spread the love