comscore

इपीएसआरएफए(EPS RFA) थ्रीडीमैपिंग ,असामान्य हृदय गति रोगियों के लिए बना वरदान…जानिए क्या होती है ये एडवांस तकनीक

 

रायपुर 22 जून 2021 रायपुर का एक 19 वर्षीय लड़का दिल की धड़कन के असामान्य विकार से पीड़ित था। उनके दिल की धड़कन बिना किसी  के कारण बहुत तेज हो जाती थी। उसकी हृदय गति 160-170 प्रति मिनट हो जाती थी। इस वजह से वह अपने दैनिक कार्य नहीं कर पा रहे थे।

रामकृष्ण केयर अस्पताल में हृदय रोग विशेषज्ञों की एक टीम ने उनका मूल्यांकन किया। डॉक्टर जावेद परवेज कार्डियक इलेक्ट्रोफिजियोलॉजिस्ट ने उनकी स्थिति को दिल की धड़कन संबंधी विकारों में से एक बताया। डॉक्टरों ने जानकारी देते हुए बताया की उसका दिल धीरे-धीरे विफल हो रहा था और उसके दिल की धड़कन के कारण पंप करने की शक्ति कम हो रही थी। EPS RFA 3D मैपिंग प्रक्रिया करने का निर्णय लिया गया। यह एक न्यूनतम इनवेसिव प्रक्रिया है जहां हृदय के विद्युत गुणों का विस्तृत अध्ययन किया जाता है। असामान्य दिल की धड़कन पैदा करने के लिए जिम्मेदार असामान्य क्षेत्रों का इलाज किया जाता है। सफल प्रक्रिया के पूरा होने के बाद रोगी की हृदय गति सामान्य हो गई और हृदय की सामान्य पंपिंग बहाल हो गई।

 

डॉ जावेद परवेज पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया की यह दिल की धड़कन और लय की समस्याओं के इलाज का सबसे नवीनतम और उन्नत रूप है। इस प्रकार की प्रक्रिया को संचालित करने की सुविधाएं महानगरीय शहरों तक सीमित हैं। लेकिन अब ये सेवाएं रायपुर में उपलब्ध हैं।

 

प्रक्रिया न्यूनतम इनवेसिव है, इसमेंजनरलअनेस्थेसिआ (पूर्णबेहोशी) या बड़े चीरों की आवश्यकता नहीं होती है। उन्होंने कहा कि इसे पूरा होने में 1-2 घंटे लगते हैं और मरीज को अगले दिन घर से छुट्टी दे दी जाती है।

अस्पताल के प्रबंध निदेशक डॉ संदीप दवे ने कार्डियोलॉजी टीम की उनके प्रयासों के लिए सराहना की। उन्होंने प्रेस को बताया कि यह एक जटिल प्रक्रिया थी और इस प्रकार की प्रोसीजरमहानगरों के प्रमुख अस्पतालों तक सीमित हैं। रायपुर में इन सेवाओं की उपलब्धता छत्तीसगढ़ के लोगों के लिए एक वरदान है।

Spread the love