CAA को लेकर जबरदस्त हिंसा, एक पुलिसकर्मी की मौत, गाड़ियां और दुकानें फूंकीं….पेट्रोल पंप को जलाने की कोशिश

नईदिल्ली 24 फरवरी 2020. दिल्ली के जाफराबाद में नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर आज फिर से हिंसा भड़क उठी। सोमवार दोपहर समर्थकों और विरोधियों के बीच एक बार फिर झड़प हुई। इस दौरान गोकुलपुरी एसीपी कार्यालय में तैनात सिपाही रतन लाल की मौत हो गई, जबकि शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा को गंभीर चोट आई है। उन्हें पटपड़गंज के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मौजपुर-जाफराबाद सड़क पर एक युवक ने ताबड़तोड़ कई राउंड फायर किए हैं। इस युवक ने तकरीबन 8 राउंड फायर किए. इस दौरान एक पुलिसवाले ने फायरिंग कर रहे युवक को रोकने की काफी कोशिश की लेकिन वो नहीं रूका और फायर करते रहा। वीडियो में साफ दिख रहा है कि युवक ने कैसे मौके पर आतंक मचाया। वीडियो में बड़ी संख्या में उपद्रवी पथराव और आगजनी करते हुए भी दिख रहे हैं।

बताया जा रहा है चांद बाग में भी प्रदर्शनकारियों ने कुछ वाहनों में आग लगाई है। सुबह दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट कमिश्रर ने खुद कमान संभालते हुए प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश की थी लेकिन जब वो नहीं माने तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैसे के गोले छोड़े गए। सोमवार सुबह से ही जाफराबाद में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। वहीं मौजपुर में बाजार बंद है लेकिन कुछ दुकानें खुली थी।

दोनों ओर से लगातार फायरिंग हो रही है। वहीं प्रदर्शनकारियों ने तीन गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया है। जाफराबाद में हालात बेहद हिंसक हो गए हैं। चारों ओर से पत्थरबाजी हो रही है। प्रदर्शनकारी कई दुकानों को आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

प्रदर्शन में एक युवक के पैर में और एक पुलिसकर्मी को गोली लग गई। इसके अलावा मीडियाकर्मियों के द्वारा वीडियो बनाए जाने पर भी उपद्रवी हमला कर रहे हैं।

जाफराबाद हिंसा Live Updates:

– हिंसक प्रदर्शन के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से गुहार लगाई है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘दिल्ली के कुछ हिस्सों में शांति और सद्भाव में गड़बड़ी के बारे में बहुत परेशान करने वाली खबर है। मैं एलजी और केंद्रीय गृहमंत्री से कानून और व्यवस्था को बहाल करने का आग्रह करता हूं।’

 सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने दिल्ली के जाफराबाद में 10 से ज्यादा गाड़ियों में लगाई आग। एक पुलिसकर्मी की मौत।

सीएए के समर्थन और विरोध करने वाले प्रदर्शनकारियों के बीच अब रुक रुक कर हो रही है पत्थरबाजी

– प्रदर्शनकारियों के पथराव के चलते आसपास के मकानों के टूटे कांच

Spread the love