संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों ने कैबिनेट मंत्री अमरजीत भगत से की मुलाकात , रखी संपूर्ण संविलियन की मांग

बिलासपुर 3 फरवरी 2020। :- प्रदेश में संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों की संविलियन की लड़ाई जारी है और जैसे-जैसे बजट का समय करीब आते जा रहा है वैसे वैसे शिक्षाकर्मियों का प्रयास बढ़ते जा रहा है । संविलियन अधिकार मंच के बैनर तले प्रदेश संयोजक विवेक दुबे के नेतृत्व में पूरे प्रदेश में विधायकों और मंत्रियों को ज्ञापन देने का सिलसिला जारी है। आज इसी कड़ी में शिक्षाकर्मियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपने 1 सूत्रीय संविलियन की मांग को लेकर कद्दावर मंत्री अमरजीत भगत के एकदिवसीय बिलासपुर प्रवास के दौरान मुलाकात की और उन्हें अपनी परेशानियों से अवगत कराते हुए बजट सत्र में बचे हुए शिक्षाकर्मियों के संविलियन के लिए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए संविलियन के लिए प्रयास करने का निवेदन किया । शिक्षाकर्मियों के प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री भगत को बताया कि प्रदेश में अब संविलियन से वंचित शिक्षा कर्मियों की संख्या महज 15 हजार ही रह गई है और इतने कम संख्या में बचे होने के बावजूद जनघोषणा पत्र के मुताबिक उनके संविलियन का निर्णय अभी तक नहीं लिया गया है । संविलियन से बचे शिक्षाकर्मियों को न तो समय पर वेतन नसीब हो पा रहा है , न ही बीते 3 साल से महंगाई भत्ता मिला है , न उनके लिए कोई स्थानांतरण की व्यवस्था है न संतान पालन अवकाश और न ही अनुकंपा की कोई समुचित व्यवस्था और इन समस्त समस्याओं का एकमात्र हल संविलियन ही है । शिक्षाकर्मियों की बात सुनने के बाद मंत्री अमरजीत भगत ने मुस्कुराते हुए कहा कि मैं आपकी बात मुख्यमंत्री जी तक अवश्य पहुंचाऊंगा । मंत्री अमरजीत भगत से मुलाकात करने वाले प्रतिनिधिमंडल में शिक्षाकर्मियों की तरफ से प्रदेश संयोजक विवेक दुबे , जिला संयोजक आभास श्रीवास , प्रणव तिवारी, विनय मौर्य, प्रदीप पांडे, संदीप शर्मा, वासुदेव पांडे, नयन केसरी शामिल थे ।

Spread the love