हिस्‍ट्रीशीटर का आलीशान बंगला जेसीबी से ढहाया गया, महंगी गाड़ियां भी चकनाचूर…एनकाउंटर से पहले विकास दुबे से बात करने वाला दरोगा सस्पेंड, मिलीभगत का आरोप….

कानपुर 4 जुलाई 2020। कानपुर में पुलिस टीम पर हमले के मुख्‍य आरोपी हिस्‍ट्रीशीटर विकास दुबे का घर ढहा दिया गया है। बिकरू गांव में विकास का किलेनुमा घर अब मलबे के ढेर में तब्‍दील हो चला है। वहीँ गोलीकांड मामले में कानपुर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने इस मामले में चौबेपुर के थानाध्यक्ष विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है। कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने ये कार्रवाई की है।

Image

बता दें कि पुलिस की अबतक की जांच में ये बात सामने आई है कि पुलिस से ही जुड़े कुछ अफसरों ने अपराधी विकास दुबे को पुलिस रेड की पूर्व सूचना दे दी थी। पुलिस की जांच में चौबेपुर के थानाध्यक्ष और कुछ दूसरे सिपाहियों का नाम आया था। विनय तिवारी चौबेपुर के थानाध्यक्ष हैं। इस जानकारी के आधार पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने विनय तिवारी को सस्पेंड कर दिया है।

Police Team Attacked in Kanpur Criminal Viaks Dubey was much more ...

विकास के घर को उसी जेसीबी से तोड़ा गया जिसने गुरुवार रात को पुलिस की गाड़ियों का रास्ता रोका था। घर के अंदर खड़ी दस से पंद्रह लाख कीमत वाली दो लग्जरी कार और दो ट्रैक्टर भी नष्ट कर दिए। पुलिस ने बीते तीस घंटे में मकान सील करके चप्पे-चप्पे की तलाशी ली तो महफूज किले जैसी सुरक्षा घेरे वाले परिसर के अंदर बने पुराने मकान में तलघर की भी तलाश कर रही है। 

कुख्यात गैंगस्टर विकास दुबे के घर पर ...

दो बीघा के अंदर चार कमरे नए हैैं, जहां विकास रहता था। पूरे की करीब 12 फीट ऊंची बाउंड्रीवाल है। कोई दाखिल न हो सके, इसलिए करीब दो फीट ऊंचाई में छल्लेदार कंटीले तार भी लगाए गए हैैं। गांव वालों के मुताबिक नया घर सात-आठ साल पहले ही बना है। बाउंड्रीवाल के अंदर ही पैतृक घर भी है, जहां अब सेवादार रहते हैैं। घर में दाखिल होने के चार गेट हैैं। एक मुख्य द्वार है। दो गेट दाएं-बाएं वाली गलियों में खुलते हैैं तो चौथा गेट पुराने घर से अंदर आने-जाने का है। तीनों नए गेट इतने चौड़े हैैं कि चार पहिया वाहन आ जाए। चारों गेट के बाहर और अंदर सीसीटीवी कैमरे लगे हैैं। कोई गेट के पास पहुंचा नहीं कि सीसीटीवी से उसे खबर लग जाती।

Over 25 UP Police Teams Formed To Nab Vikas Dubey After 8 Cops ...

मुख्य गेट से करीब 80 मीटर अंदर चार कमरों वाले आलीशन घर में ही विकास रहता था। यहां जाने से पहले चैनल का मजबूत गेट लगा है। दालान और फिर बाएं बैठक का कमरा। इस कमरे के बराबर विकास का बेड रूम। दाहिने कमरे में पिता रामकुमार दुबे और उनके पीछे वाले कमरे में कामवाली रेखा अपने पति व दो बेटियों संग रहती है। सीढिय़ां बाहर से भी छत तक पहुंचाती हैैं, आंगन से भी। इन्हीं तगड़े इंतजामों और बेखौफ प्रवृत्ति के कारण पुलिस भी घर में दाखिल होने से घबराती थी। घर में ऐशो-आराम का भी पूरा इंतजाम है। बाथटब से लेकर वाश बेसिन तक डिजाइनर। किचन भी माड्युलर। यानी, सबकुछ ऐसा इंतजाम कि शहर में रहने वाले तमाम लोगों को भी शायद ही नसीब हो।

Kanpur Encounter: Gangster Vikas Dubey had blocked road by JCB ...

पुलिस ने सारा दिन और रात मकान के हर एक हिस्से की गहनता से छानबीन की। पुलिस के मुताबिक शनिवार सुबह पुराने मकान में जांच के दौरान लकड़ी के तखत का तखत हटाकर फर्श को ठोका तो खोखलेपन की आवाज महसूस हुई। इसपर पुलिस को फर्श के नीचे तलघर यानी बंकर होने का अहसास हुआ।

कानपुर: चौबेपुर के SHO विनय तिवारी ...

पुलिस को आशंका हुई कि अपराध करने के बाद विकास इसी तलघर में छिपता था। कुछ देर आला अफसरों का निर्देश मिलने के बाद पुलिस ने घर के अंदर से विकास के पिता और नौकरनी समेत परिवार को बाहर निकाल दिया। इसके बाद मकान के आसपास पचास मीटर पर आवागमन बंद करा दिया है, मीडिया को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है और मकान गिराने की तैयारी शुरू कर दी।

कानपुर मुठभेड़ के बाद विकास दुबे पर ...

पुलिस ने रास्ता रोकने वाले बुलडोजर पर चालक को बिठाया और फिर उससे ही विकास के मकान की चाहरिदवारी को गिराना शुरू कर दिया, एक के बाद एक मकान की दीवारों को कमरे को गिरते हुए अंदर कार खड़ा करने वाले हिस्से को भी ढहा दिया। पुलिस ने दो घंटे की कार्रवाई में पूरे मकान को गिराकर मलबे में तब्दील कर दिया है। गैराज गिराकर दस से पंद्रह लाख कीमत वाली दो कारें और दो ट्रैक्टर पर क्षतिग्रस्त कर दिए हैं। मकान में महंगे बाथरूम, ड्राइंग रूम और किचने समेत सभी हिस्सों को गिरा दिया गया है।

History Sheeter Vikas Dubey Police and STF Raids Lucknow Residence ...

 

Spread the love