इस महिला अफसर ने कोरोना के चलते टाली अपनी शादी…छुट्टी भी कर दी कैंसल…12 अप्रैल को होनी थी शादी, हजारों रूपये कोरोना पीड़ितों को किये दान…पढ़िए इनके बारे में

करेली 3 अप्रैल 2020  विश्व व्यापी कोरोना संकट से निपटने चल रहे लॉक डाउन के दौरान अपने कर्तव्यों को पृरी निष्ठा से निभाने के लिए करेली की एसडीएम संघमित्रा बौद्ध ने 12 अप्रैल को होने वाली अपनी शादी की तारीख भी स्थगित कर दी है। उन्होंने शादी के लिए ली जाने वाली छुट्टियां भी कलेक्टर को आवेदन देकर निरस्त करा लीं है। साथ ही कोरोना से बचाव एवं राहत कार्य के लिए 20 हजार रुपए की राशि भी दान की है।

मूलतः दतिया निवासी एसडीएम संघमित्रा बौद्ध करेली में पदस्थ हैं। जिनका विवाह भिंड में पदस्थ एसडीएम अभिषेक चौरसिया निवासी निवाड़ी से दतिया में 12 अप्रैल को होना था। बीती 8 फरवरी को सगाई की रस्म भी हो थी। जिसके बाद शादी की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।रिश्तेदारों में कार्ड भी चले गए हैं।

शादी की तैयारियों के तहत मैरिज गार्डन व कैटरिंग आदि की बुकिंग के साथ शादी की पूरी खरीददारी भी हो चुकी है। दोनों के द्वारा मार्च के शुरुआती दिनों में छुट्टी के लिये आवेदन भी कर दिया गया था ।

जिस पर अवकाश स्वीकृत भी हो गए हैं। लेकिन कोरोना संकट को देखते हुए दोनों ने शादी स्थगित करने का निर्णय लिया एवं छुट्टी पर न जाकर अपने क्षेत्र की जनता को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए सेवाएं देने का फैसला किया है। एसडीएम संघमित्रा बौद्ध ने कोरोना बचाव एवं राहत कार्य के लिए नरसिंहपुर जिले के लिए 10 हजार रुपये एवं मप्र प्रशासनिक सेवा संघ में 10 हजार रुपये इस तरह कुल 20 हजार रुपये का डोनेशन भी दिया है।

 

संघमित्रा का कहना है कि शादी के लिए इंतजार किया जा सकता है, लेकिन इस समय मेरे क्षेत्र की जनता को मेरी जरुरत है। उनका कहना है कि इस समय कोरोना से लड़ना बड़ी चुनौती है। ऐसे में वह अपना पूरा ध्यान उसी पर लगाना चाहती है। जब संघमित्रा ने अपने मंगेतर और परिवार को शादी टालने की बात कही तो वो भी राजी हो गए। वहीं संघमित्रा के परिजनों ने भी उनका साथ दिया और कहा कि एनवक्त पर शादी टालना मुश्किल होता है। लेकिन, हमारी बेटी ने अपने क्षेत्र की जनता के हित के लिए जो भी फैसला लिया है हम उनके साथ है। वहीं संघमित्रा के मंगेतर ने भी उनके इस फैसले पर बहुत खुशी जताई है।

Spread the love