उपचुनाव : हाथ साबुन से धोकर ही मतदान केंद्र में कर सकेंगे प्रवेश, वोटिंग के लिए मिलेगा गलब्स, कोरोना संदिग्ध होने पर वोटिंग के आखिरी घंटे में दोबारा आना होगा वोट डालने…. देखिये और क्या कुछ बदलेगा

रायपुर 29 सितंबर 2020। कोरोना काल में होने वाले विधानसभा चुनाव में इस बार काफी कुछ बदलाव देखने को मिलेगा। चुनाव प्रचार से लेकर मतदान तक को लेकर कई नये निर्देश जारी किये गये हैं। 3 नवंबर को मरवाही उपचुनाव के लिए वोट डाले जायेंगे, वहीं 10 नवंबर को नतीजे आयेंगे। आज छत्तीसगढ़ की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबा साहेब कंगाले ने प्रेस कांफ्रेंस कर चुनाव को लेकर किये जा रहे प्रावधानों की जानकारी दी। विधानसभा क्षेत्र में  237  मूल मतदान केंद्र एवं 49 सहायक मतदान  केंद्रों सहित कुल 286 मतदान केंद्र स्थापित किए गए हैं। सभी मतदान केंद्र ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित है। विधानसभा  निर्वाचन-2018 के दौरान मतदान केंद्रों की संख्या 237 थी। विधानसभा क्षेत्र में 126 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं।

 

कोरोना की वजह से किसी भी मतदान केंद्र में 1000 से ज्यादा वोटर नहीं होंगे। साथ ही प्रत्येक मतदान केंद्र को मतदान दिवस के 1 दिन पूर्व सैनिटाइज किया जाएगा। सभी मतदान केंद्रों स्थल में प्रवेश द्वार पर साबुन एवं पानी की व्यवस्था हाथ धोने के लिए तथा पोलिंग बूथ में प्रवेश करने के पूर्व हाथों को सैनिटाइज करने के लिए सैनिटाइजर की व्यवस्था की गई है।  मतदान केंद्र में थर्मल स्कैनर की भी व्यवस्था की गई है मतदान करने वाले प्रत्येक मतदाता की थर्मल टेस्टिंग भी की जाएगी यदि उन का तापमान निर्धारित तापमान से अधिक मिलता है तो उन्हें अन्य मतदाताओं के मतदान करने के बाद मतदान समाप्ति समय के एक घंटे पूर्व मतदान करने दिया जाएगा। ऐसे मतदाता को  मतदान समाप्ति हेतु निर्धारित समय के पूर्व पुनः मतदान केंद्र में पहुंचना अनिवार्य होगा।

 

मतदान हेतु कतार में लगे मतदाताओं को सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करवाने के उद्देश्य से प्रत्येक मतदान केंद्र में जमीन पर निश्चित दूरी पर वर्गाकार चिन्हित किया जाएगा, जिसमें मतदाता खड़े होकर अपनी बारी की प्रतीक्षा करेंगे। मतदान करने हेतु आने वाले प्रत्येक मतदाता को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। प्रत्येक मतदाता को मतदान करने के लिए ग्लब्ज प्रदान किया जाएगा। कोरोना संक्रमित/ संदिग्ध(प्रमाणित) मतदाता, दिव्यांग (PwD) मतदाता एवं 80 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाता को डाक मतपत्र से मतदान करने की सुविधा प्रदान की गई है।

 

वर्तमान स्थिति में निर्वाचन क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 190907 है जिनमें से 93694 पुरुष मतदाता, 97209 महिला मतदाता तथा  तृतीय लिंग मतदाता हैं। विधानसभा निर्वाचन-2018 के दौरान कुल मतदाताओं की संख्या 184021 थी। इस प्रकार  मतदाताओं की संख्या में 6886 की वृद्धि हुई है। प्रचार को लेकर नया निर्देश जारी किया गया है, जिसमें डोर टू डोर प्रचार के दौरान उम्मीदवार सहित केवल पांच व्यक्ति (सुरक्षाकर्मी यदि कोई, को छोड़कर) ही उपस्थित रह सकेंगे। रोड शो के लिए रैली में उपयोग किए जाने वाले अधिकतम वाहनों की संख्या (सुरक्षा वाहन, यदि कोई हो, को छोड़कर) 5 होगी, पहले यह संख्या 10 थी। दो रैलियों के बीच में कम से कम आधा घंटे का अंतराल होगा,  पहले यह 100 मीटर की दूरी पर होता था।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.