डाक्टर आत्महत्या : जिला अस्पताल में पदस्थ गायनोकोलॉजिस्ट ने फांसी लगाकर दी जान…..सुसाइड नोट नहीं मिला, मचा हड़कंप….. जिला अस्पताल में पदस्थ थे डाक्टर

कबीरधाम 5 मई 2020। कवर्धा से एक बुरी खबर आ रही है। कोरोना संकट में एक तरफ जहां डाक्टरों को कोरोना वारियर्स का सम्मान मिल रहा है…तो वहीं दूसरी तरफ कवर्धा में एक डाक्टर ने खुदकुशी कर ली। डाक्टर का नाम डॉ अरूण चौधरी बताया जा रहा है, जो कवर्धा जिला अस्पताल में पदस्थ थे। स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ अरूण चौधरी ने फांसी लगाकर अपनी जान दी है, हालांकि उन्होंने क्या जान दी, इसे लेकर अभी सस्पेंस बना हुआ है। हालांकि माना जा रहा है कि कुछ विवाद की वजह से उन्होंने ये जानलेवा कदम उठाया। डाक्टर की लाश उनके सरकारी आवास में मिली है।

हाल ही में डाक्टर अरूण चौधरी का तबादला बीजापुर से कवर्धा जिला अस्पताल हुआ था। मूल रूप से यूपी के अलीगढ़ के रहने वाले डाक्टर ने सोमवार तक अस्पताल में ड्यूटी की थी, हालांकि अभी तक सुसाइड नोट नहीं मिला है। हालांकि परिवारिक विवाद को इसकी वजह माना जा रहा है।

डाक्टर के साथ उनकी पत्नी भी कवर्धा में रहा करती थी, जबकि बाकी का पूरा परिवार यूपी के अलीगढ़ में ही रहता था। इधर जैसे ही आत्महत्या की खबर सामने आयी, अस्पताल में हड़कंप मच गया। इधर पुलिस शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम केलिए भेजवा दिया है।

Spread the love