डाक्टर सुसाइड : सीनियर्य की प्रताड़ना से तंग आकर मेडिकल पीजी स्टूडेंट ने दी जान…. नाराज लोगों ने रोड किया जाम……शिकायत के बाद भी नहीं की थी कार्रवाई

जांजगीर 3 अक्टूबर 2020। डाक्टर की खुदकुशी के मामले में 5 सीनियर डाक्टरों पर गंभीर आरोप लगे हैं। इधर परिजन इस मामले में धरने पर बैठ गये हैं। मामला जांजगीर के मेडिकल स्टूडेंट का है, जो जबलपुर मेडिकल कालेज में पढ़ाई कर रहा था, इसी दौरान सीनियर्स की प्रताड़ना से तंग आकर उसने जान दे दी। जूनियर डाक्टर का नाम भागवत देवांगन बताया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक जांजगीर के राहौद नगर पंचायत के रहने वाले भागवत एमबीबीएस के स्टूडेंट थे, आर्थो में पीजी के लिए उसने जबलपुर मेडिकल कालेजम  एडमिशन लिया था। परिजनों का आरोप है कि पढ़ाई के दौरान सीनियर्स भागवत क लगातार प्रताड़ित कर रहे थे। इसी प्रताड़ना के बीच बुधवार को डाक्टर का शव हास्टल में फंदे में लटका हुआ मिला।

इस सुसाइड की घटना के बाद राहौद में लोगों का गुस्सा भड़क गया। नाराज लोगों ने बिलासपुर-जांजगीर सड़क जाम कर लिया। मौके पर पहुंचे तहसीलदाल ने लोगों को समझा बुझाकर लोगों को हटाया। परिजनों ने 5 डाक्टरों पर गंभीर आरोप लगाये हैं। परिजनों ने भागवत ने इस बाबत कई दफा अधिकारियों से भी शिकायत की थी, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई, इस मामले में विकास द्विवेदी, अमन गौतम, अभिषेक गेमे और सलमान खान के खिलाफ शिकायत दी गयी है।

फिलहाल पुलिस इस मामले में जांच करने की बात कही है। ऐसे में माना जा रहा है, जल्द ही ये इस पूरे प्रकरण में जांजगीर पुलिस जबलपुर पुलिस और मेडिकल कालेज से संपर्क कर सकती है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.