fbpx

दिव्यांशी जैन ने हासिल किये 600 में से 600 नंबर, 12वीं CBSE परीक्षा में टॉप कर रचा इतिहास….कहा- कभी भी विषयों को रटने को कोशिश नहीं की

नईदिल्ली 13 जुलाई 2020। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) में दिव्यांशी जैन ने 12वीं में 600 में से 600 नंबर हासिल करके इतिहास रच दिया है। नवयुग रेडियंस स्कूल की छात्रा दिव्यांशी की इस सफलता के बाद स्कूल से लेकर आस-पड़ोस और परिचित रिश्तेदारों में बधाई देने का तांता लग गया। दिव्यांशी के अनुसार उसने सपने में भी नहीं सोचा था कि उसे शत-प्रतिशत नंबर मिल सकते हैं। यह सफलता इसलिए भी खास है क्योंकि दिव्यांशी ने मानविकी में ये नंबर हासिल किये हैं। हाईस्कूल में दिव्यांशी को 97.6 प्रतिशत अंक हासिल हुए थे। दिव्यांशी के पिता राकेश प्रकाश जैन बिजनेसमैन तथा सीमा जैन गृहिणी हैं।

दिव्यांशी ने इतिहास, अंग्रेजी, संस्कृत, भूगोल, अर्थशास्त्र और इंश्योरेंस जैसे विषयों में शत प्रतिशत अंक पाकर यह कीर्तिमान स्थापित किया है। दिव्यांशी जैन नवयुग रेडिएंस पब्लिक स्कूल की छात्रा हैं। उनके पिता राजेश प्रकाश जैन की गणेशगंज में दुकान है।

दिव्यांशी कहतीं है कि …भले ही लोगों को इतिहास जैसे विषयों को पढ़ने और याद करने में दिक्कत होती है लेकिन, उन्होंने कभी विषयों को रटने को कोशिश भी नहीं की। इतिहास को कहानी के रूप में समझा। संस्कृत भी गणित के जैसे फार्मूले होते हैं। उनको याद किया। फिलहाल, दिव्यांशी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से बीए (ऑनर्स) की पढ़ाई करने का फैसला लिया है।

शहर के गणेशगंज निवासी स्टेशनरी व्यापारी राजेश प्रकाश जैन के बेटी ने सीबीएसई की बारहवीं में शत प्रतिशत अंक हासिल किए। दिव्यांशी ने बिना कोचिंग के मदद लिए यह सफलता हासिल की। दिव्यांशी कहती हैं कि कड़ी मेहनत निश्चित तौर पर अपना रंग लाती है। दिव्यांशी बताती हैं कि सफलता के लिए लगन और आत्मविश्वास बेहद जरूरी है। दिव्यांशी शोध के क्षेत्र में जाना चाहती हैं। वह रोजाना तीन से चार घंटे ही पढ़ाई करती हैं। उनका कहना है कि पढ़ाई का उतना ही लाभ है, जितना समझ आए। उसकी मां सीमा जैन गृहणी हैं। दिव्यांशी ने हाईस्कूल में 98% अंक हासिल किए थे।

यह है दिव्यांशी की रिपोर्ट कार्ड 
अंग्रेजी 100
संस्कृत 100
भूगोल 100
अर्थशास्त्र  100
इंश्योरेंस  100
इतिहास   100

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.