npg
विविध

भूपेश सरकार की नीतियों से छत्तीसगढ़ के 13 लाख परिवारों को मिलेगा अबकी तेन्दूपत्ता संग्रहण का लाभ, 7.82 लाख संग्राहकों द्वारा लगभग 280 करोड़ रूपए के तेन्दूपत्ता का हो चुका संग्रहण

भूपेश सरकार की नीतियों से छत्तीसगढ़ के 13 लाख परिवारों को मिलेगा अबकी तेन्दूपत्ता संग्रहण का लाभ, 7.82 लाख संग्राहकों द्वारा लगभग 280 करोड़ रूपए के तेन्दूपत्ता का हो चुका संग्रहण
X

रायपुर, 12 मई 2022। तेंदूपत्ता संग्रहण करने वालों के लिए भूपेश बघेल सरकार ने कई अहम कदम उठाये। इसका नतीजा यह हुआ कि तेंदूपत्ता संग्रहण में बूम आ गयाभूपेश सरकार की नीतियों से छत्तीसगढ़ के 13 लाख परिवारों को मिलेगा अबकी तेन्दूपत्ता संग्रहण का लाभ, 7.82 लाख संग्राहकों द्वारा लगभग 280 करोड़ रूपए के तेन्दूपत्ता का हो चुका संग्रहण है। इस बार सबसे बढ़ियां रिसपांस मिल रहा तेंदूपत्ता संग्रहण में। दरअसल, इस बार रेट तो बढ़ाया ही, बुटा की कटाई भी अच्छे ढंग से कराया। लघु वनोपज संघ के एमडी संजय शुक्ला कहते हैं, तेंदूपत्ता संग्रहण कार्य में लगे लोगों में उत्साह इस बात को लेकर है कि वे जितना तोड़ेंगे, उतनी उनकी कमाई होगी।

छत्तीसगढ़ में चालू वर्ष 2022 के दौरान अब तक 6 लाख 97 हजार 827 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण हो चुका है, जो लक्ष्य 17 लाख 32 हजार 440 मानक बोरा का लगभग 40 प्रतिशत है। इनमें तेन्दूपत्ता संग्राहकों को कुल भुगतान योग्य राशि 279 करोड़ रूपए से अधिक हैं। इसका संग्रहण 7 लाख 81 हजार 732 तेन्दूपत्ता संग्राहकों द्वारा किया गया है। चालू वर्ष के दौरान अब तक गरियाबंद वनमंडल में सर्वाधिक 71 हजार 576 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण हुआ है।

राज्य लघु वनोपज संघ से प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक जगदलपुर वनवृत्त के अंतर्गत वनमंडल बीजापुर में 27 हजार 722 संग्राहकों द्वारा 15.35 करोड़ रूपए के 38 हजार 384 मानक बोरा, सुकमा में 34 हजार संग्राहकों द्वारा 36.52 करोड़ रूपए के 66 हजार 302 मानक बोरा, दंतेवाड़ा में 19 हजार 444 संग्राहकों द्वारा 7.36 करोड़ रूपए के 18 हजार 393 मानक बोरा तथा जगदलपुर में 40 हजार 183 संग्राहकों द्वारा 6.27 करोड़ रूपए के 15 हजार 676 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण हो चुका है।

इसी तरह कांकेर वनवृत्त के अंतर्गत वनमंडल दक्षिण कोण्डागांव में 33 हजार 945 संग्राहकों द्वारा 6.80 करोड़ रूपए के 17 हजार मानक बोरा, केशकाल में 33 हजार 145 संग्राहकों द्वारा 10.22 करोड़ रूपए के 25 हजार 553 मानक बोरा, नारायणपुर में 15 हजार 416 संग्राहकों द्वारा 9 करोड़ रूपए के 22 हजार 978 मानक बोरा, पूर्व भानुप्रतापपुर में 14 हजार 170 संग्राहकों द्वारा 8.33 करोड़ रूपए के 20 हजार 814 मानक बोरा, पश्चिम भानुप्रतापपुर में 2587 संग्राहकों द्वारा 1.97 करोड़ रूपए के 4932 मानक बोरा तथा कांकेर में 33 हजार 846 संग्राकों द्वारा 11 करोड़ रूपए के 27 हजार 652 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण किया गया है।

दुर्ग वनवृत्त के अंतर्गत वनमंडल राजनांदगांव में 37 हजार 995 संग्राहकों द्वारा 11.71 करोड़ रूपए के 29 हजार 278 मानक बोरा, खैरागढ़ में 23 हजार 922 संग्राहकों द्वारा 9.69 करोड़ रूपए के 24 हजार 213 मानक बोरा, बालोद में 21 हजार 352 संग्राहकों द्वारा 7.18 करोड़ रूपए के 17 हजार 955 मानक बोरा तथा कवर्धा में 31 हजार 421 संग्राहकों द्वारा 10 करोड़ रूपए के 25 हजार मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण हो चुका है। रायपुर वनवृत्त के अंतर्गत वनमंडल धमतरी में 26 हजार 107 संग्राहकों द्वारा 7 करोड़ रूपए के 19 हजार 345 मानक बोरा, गरियाबंद में 70 हजार 303 संग्राहकों द्वारा 28.63 करोड़ रूपए के 71 हजार 566 मानक बोरा, महासमुंद में 22 हजार 937 संग्राहकों द्वारा 23 करोड़ रूपए के 57 हजार मानक बोरा तथा बलौदाबाजार में 18 हजार 114 संग्राहकों द्वारा 5.40 करोड़ रूपए के 13 हजार 489 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण किया गया है।

बिलासपुर वनवृत्त के अंतर्गत अब तक वनमंडल बिलासपुर में 28 हजार 062 संग्राहकों द्वारा 6.27 करोड़ रूपए के 15 हजार 672 मानक बोरा, मरवाही में 23 हजार 657 संग्राहकों द्वारा 3.46 करोड़ रूपए के 8 हजार 641 मानक बोरा, जांजगीर-चांपा में 9 हजार 448 संग्राहकों द्वारा 1.81 करोड़ रूपए के 4 हजार 527 मानक बोरा, रायगढ़ में 34 हजार 222 संग्राहकों द्वारा 12.20 करोड़ रूपए के 30 हजार 504 मानक बोरा, धरमजयगढ़ में 38 हजार 375 संग्राहकों द्वारा 17.74 करोड़ रूपए के 44 हजार 358 मानक बोरा, कोरबा में 18 हजार 773 संग्राहकों द्वारा 8.11 करोड़ रूपए के 20 हजार 281 मानक बोरा तथा कटघोरा में 62 हजार 266 संग्राहकों द्वारा 12.58 करोड़ रूपए के 31 हजार 465 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण हो चुका है।

इसी तरह सरगुजा वनवृत्त के अंतर्गत वनमंडल जशपुर में 26 हजार 024 संग्राहकों द्वारा 5.96 करोड़ रूपए के 14 हजार 907 मानक बोरा, मनेन्द्रगढ़ में 12 हजार 713 संग्राहकों द्वारा 1.29 करोड़ रूपए के 3 हजार 223 मानक बोरा तथा सरगुजा में 21 हजार 378 संग्राहकों द्वारा 3.52 करोड़ रूपए के 8 हजार 789 मानक बोरा तेन्दूपत्ता का संग्रहण किया गया है।

Next Story