खाद की क़िल्लत से परेशान किसानों ने रोका मंत्री अमरजीत को.. बोले – “केलिक्टर ला लगा फ़ोन.. खाद नई मिलत हे” मुस्कुराते अमरजीत ने कहा – “ऐ.. अझे रुक.. लेन तोरेच्च सामने बतियावत हों केलिक्टर ले.. मिलहीं खाद..”

अंबिकापुर,21 अगस्त 2020। सरगुजा में किसान खाद की कमी की शिकायत कर रहे हैं, खाद की दुकानों पर किसानों की लंबी क़तारें हैं। हालिया दिनों में किसानों ने खाद की कमी को मुद्दा बना चक्का जाम भी कर दिया था। ज़िला प्रशासन की ओर से यह क़वायद हुई कि खाद की आवश्यकतानुरूप उपस्थिति रहे, लेकिन रैक ना आने की वजह से दिक़्क़तें जरुर सामने आते रही हैं। एक दलील यह भी आई कि, खाद पर्याप्त है लेकिन अज्ञात कारणों से किसानों के बीच हड़बड़ाहट है। जबकि इन सबसे अलग किसानों का यह कहना रहा है कि, खाद उपलब्ध नहीं हो रहा है। खाद की दुकानों में लंबी लंबी क़तारें लगातार नुमाया हो रही हैं।
किसानों को खाद की आपूर्ति हो इसके लिए स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव और कांग्रेस की टीम खुद दुकानों में पहुँची और किसानों को समुचित खाद वितरित करने की व्यवस्था कराई।
हालिया दिनों में गृहक्षेत्र सरगुजा पहुँचे खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने भी बयान जारी किया कि, किसानों को अब खाद मिलेगा, रैक में देरी की वजह से यह स्थिति बनी थी, अब परेशान होने की जरुरत नहीं है।बावजूद इसके खाद की दुकानों पर भीड़ कम नहीं हुई।
अंबिकापुर से विधानसभा क्षेत्र सीतापुर पक्के बतौली जा रहे खाद्य मंत्री अमरजीत भगत को खाद की दुकान पर भीड़ दिखी तो वे रुके, और तभी एक किसान ने कहा –

 

“तें हर तो बोले रहे.. मिलहीं नई त मिलत हे..लेन केलिक्टर ला लगा फ़ोन..खाद काए नई मिलत हे..”

 

 

सहज सरल मंत्री अमरजीत भगत ने नाराज़ किसान के काँधे पर हाथ रखा और मुस्कुराते हुए बोले

 

“ऐ.. अझे रुक.. लेन तोरेच्च सामने बतियावत हों केलिक्टर ले.. मिलहीं खाद..कइसे नई मिलही खाद”और फिर स्पीकर मोड पर लेकर कलेक्टर संजीव झा को दुकान का पता बताते हुए कहा कि खाद उपलब्ध करा दीजिए, क्योंकि किसान बता रहे हैं कि कल वितरण के लिए खाद दुकान में उपलब्ध नहीं है। कलेक्टर ने तत्काल उपलब्ध कराने की बात कही।उसके बाद मंत्री अमरजीत भगत ने किसानों की ओर देखते हुए कहा –“लेन. बोले हों.. अझे आए जाही खाद.. अझे लउटत घनीं फेर चेक करत जाहूं”

 

Spread the love