विधायक का विवादित बयान, कहा- मामा पहले दबंग थे, टीआई-डीएसपी को जड़ देते थे चांटे… अब बहुत सॉफ्ट हो गए

इंदौर 10 फरवरी 2020। विधायक आकाश विजयवर्गीय शनिवार रात एक धार्मिक आयोजन में पहुंचे। यहाँ पर इन्होंने एक बार फ़िर विवादित टिप्पणी कर राजनीतिक बवाल खड़ा कर दिया है। शनिवार देर रात विधानसभा तीन में स्थित छावनी क्षेत्र में हनुमान चालीसा पाठ और भजन संध्या के आयोजन में पहुंचे। आकाश विजयवर्गीय ने आयोजक मनीष मामा के लिए कहा कि वे अब बहुत सॉफ्ट हो गए हैं। पहले बहुत दबंग थे। ये टीआई और डीएसपी को चांटे मार चुके हैं। कई पुलिसकर्मियों को भी चांटे मारे हैं।

 

सोशल मीडिया पर चल रहे वीडियो में मामा उन्हें हंसते हुए राज नहीं खोलने का आग्रह भी करते नजर आए। उनके बयान पर कांग्रेस के समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने जिन लोगों पर माफिया अभियान के दौरान कार्रवाई के विरोध का जिक्र किया था उनमें उनके प्रतिनिधि मनीष मामा भी थे। तब उन्होंने कहा था कि मामा भाजपा से जुड़े हैं, इसलिए अफसर उन्हें परेशान कर रहे हैं। लेकिन वीडियो में आकाश खुद स्वीकार रहे हैं कि मामा ने कई अफसरों को चांटे मारे हैं।

मनीष से जुड़े विवाद

  •  2004 में निगम अधिकारी एनएस तोमर की परिसर में ही पिटाई।
  •  ट्रैफिक डीएसपी एस.एस. कनौआ से नवलखा चौराहे पर विवाद।
  •  दो थाना प्रभारियों और कई बार पुलिसकर्मियों से विवाद।

पहले भी बोल चुके है विवादित बोल

आकाश ने जब निगम के अफसर को बल्ले से पीटा था तब उन्होंने कहा था कि पहले निवेदन, फिर आवेदन फिर दनानद, यही हमारा लाइन ऑफ एक्शन है। यह बयान काफी चर्चित रहा था। बाद में उन्होंने अपनी पुस्तक के विमोचन के समय विहिप अध्यक्ष को लेकर टिप्पणी कर दी थी और अब मामा को लेकर बयान दे डाला।

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.