डीजीपी ने की एमएमसी जोन के नक्सल विरोधी अभियान की समीक्षा, आगामी 5 माह की रणनीति बनाकर ऑपरेशन चलाने के दिये निर्देश

रायपुर 1 फरवरी 2020। डीजीपी डीएम अवस्थी ने आज यहां पुलिस मुख्यालय में एमएमसी जोन (महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़) के नक्सल विरोधी अभियान की समीक्षा की। एमएमसी जोन में छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव, कवर्धा, मध्यप्रदेश के बालाघाट, मंडला, डिंडौरी, महाराष्ट्र के भंडारा, गोंदिया, नागपुर और गढ़चिरौली जिलों की सीमाओं में नक्सली विरोधी अभियान की समीक्षा की गई। डीजीपी अवस्थी ने राजनांदगांव और कवर्धा के पुलिस अधिकारियों से महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश से लगे इलाकों में नक्सली मूवमेंट की जानकारी ली। उन्होंने आईजी और राजनांदगांव, कवर्धा पुलिस अधीक्षक को आगामी 5 माह की नक्सल विरोधी रणनीति बनाने के निर्देश दिये।

अवस्थी ने निर्देश दिये कि राजनांदगांव में आईटीबीपी और जिला फोर्स की मदद से, कवर्धा में छत्तीसगढ एसटीएफ, सशस्त्र बल और जिला बल के माध्यम से तेज ऑपरेशन चलाया जाए। डीजीपी ने कहा कि आज की बैठक के एक सप्ताह बाद वे स्वयं राजनांदगांव और कवर्धा में बैठक लेकर निर्देशों के परिपालन में ऑपरेशन की रणनीति की समीक्षा करेंगे। अवस्थी ने नक्सलियों के विरुद्ध तेज ऑपरेशन चलाने के निर्देश दिये। बैठक में आईजी विवेकानंद, ज्वाइंट डायरेक्टर आईबी जयदीप सिंह, कवर्धा, राजनांदगांव के पुलिस अधीक्षक और एसआईबी के अधिकारी उपस्थित रहे।

Spread the love