डीजीपी ने थाना खमतराई एवं गुढ़ियारी परिसर में बने संवेदना कक्ष का किया उदघाटन, महिलाओं पर घटित अपराधों पर तत्काल होगी कार्रवाई

रायपुर 27 जनवरी 2020। जिले में महिला संबंधी शिकायतों का शीघ्र निराकरण, महिलाओं के विरूद्ध हो रहे अपराधों में कमी लाने तथा सुरक्षा सुनिश्चित करने जिले के सभी थाना परिसर में पृथक से संवेदना कक्ष का निर्माण करवाया जा रहा है। इसी कड़ी में आज थाना खमतराई एवं गुढियारी परिसर में पृथक से संवेदना कक्ष का निर्माण कराया गया है। जिसका शुभारंभ आज डीजीपी ने किया। संवेदना कक्ष में महिलाओं पर घटित अपराधों को पुलिस महिला अधिकारी द्वारा सुना जाएगा और त्वरित निराकरण करने के प्रयास किये जाएंगे। संवेदना कक्ष में महिलाओं की सुविधा कोध्यान में रखते हुये सेनेटरी डिस्पेंसर मशीन लगाया गया है।

छोटे बच्चों को ध्यान में रखते हुये संवेदना कक्ष में खिलौने एवं अन्य मनोरंजन संबंधी सामग्री भी उपलब्ध कराया गया है। संवेदना योजना के तहत थानो में महिलाओं की समस्याओं के समाधान हेतु 4 सदस्यीय टीम का गठन किया गया है जिसमें महिला डाॅक्टर, महिला वकील, एनजीओ की एक महिला सदस्य एवं पुलिस महिला अधिकारी शामिल है। थाने में किसी भी प्रकार की महिला संबंधी शिकायत प्राप्त होने पर संवेदना कक्ष में पीड़ित महिला को बैठाकर उक्त अधिकारियों द्वारा काउंसिलिंग किया जाएगा तथा अपराध का प्रकार गंभीर होगा तो उस पर प्रथम सूचना पत्र दर्ज करने के साथ – साथ डाॅक्टर एवं वकील के भी निर्देश प्राप्त किये जाएंगे। रायपुर के प्रत्येक थानों में ऐसे संवदेना कक्ष का निर्माण कराया जा रहा है। कार्यक्रम में DGP डीएम अवस्थी , SSP आरिफ एच शेख सहित जिले के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक और नगर पुलिस अधीक्षक सहित अन्य पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।

Spread the love