comscore

DEO हटायी गयी : घोटाले में घिरी महिला DEO को आखिरकार सरकार ने पद से हटाया…. सहायक संचालक को जिला शिक्षा अधिकारी का एडिश्नल चार्ज….घोटाले में विधानसभा में ही DEO को हटाने का हुआ था ऐलान, 5 दिन बाद जारी हुआ आदेश, जारी भी होगी

रायपुर/बेमेतरा 5 अगस्त 2021। विधानसभा में स्कूलों के फर्नीचर घोटाले की गूंज के बाद अब DEO की छुट्टी हो गयी है। राज्य सरकार ने बेमेतरा की जिला शिक्षा अधिकारी मधुलिका तिवारी को पद से हटा दिया है। स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से इस बाबत आदेश जारी कर दिया गया है। इससे पहले 30 जुलाई को विधानसभा में बेमेतरा जिले के स्कूलों में फर्नीचर घोटाले का मामला गूंजा था। ध्यानाकर्षण में बेमेतरा विधायक आशीष छाबड़ा ने इस मामले को उठाते हुए करोड़ों रुपये घोटाले का आरोप लगाया था।

सदन में ही शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह ने डीईओ मधुलिका तिवारी को हटाने का आदेश दे दिया था । शिक्षा मंत्री के उस ऐलान के 5 दिन बाद शिक्षा विभाग ने DEO मधुलिका तिवारी को हटाने और नये डीईओ की नियुक्ति का आदेश जारी कर दिया है। डीईओ मधुलिका तिवारी को संयुक्त संचालक कार्यालय दुर्ग में अटैच किया गया है, वहीं डीईओ आफिस में सहायक संचालक अरविंद मिश्रा का बेमेतरा डीईओ का एडिश्नल चार्ज दिया गया है।

इससे पहले 30 जुलाई को कांग्रेस विधायक आशीष छाबड़ा ने आरोप लगाया था कि बड़े पैमाने पर फर्नीचर घोटाले में गड़बड़ियां की गयी है। इस मामले में विपक्षी विधायकों ने भी आशीष छाबड़ा का खूब साथ दिया। इस मामले में विधायकों ने तत्काल कार्रवाई की मांग की। मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह ने इस मामले में जांच का ऐलान करते हुए जिला शिक्षा अधिकारी मधुलिका तिवारी को तत्काल पद से हटाने का निर्देश दिया था, हालांकि आदेश नहीं मिलने का हवाला देते हुए डीईओ अपने पद पर 5 दिनों तक बनी रही। आखिलकार 4 अगस्त को आदेश जारी किया गया। डीईओ पर आरोप था कि स्कूलों में खरीदी के नाम पर जमकर भ्रष्टाचार किया गया। ना तो गुणवत्ता का ख्याल रखा  और ना ही खरीदी में प्रक्रियाओं का पालन किया गया। एक ही फर्मा से गलत तरीके से खरीदी की गयी और भुगतान का दवाब बनाया गया ।

 

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!