DEO और लेखापाल को 5-5 साल की जेल… सवा करोड़ के घोटाले में कोर्ट ने सुनाई सजा…. खरीदी के नाम पर विभाग को लगाया था चूना… जानिये क्या था पूरा मामला

कांकेर 29 फरवरी 2020। कांकेर के DEO सहित सहायक ग्रेड-3 को कोर्ट ने 5-5 साल के जेल की सजा सुनाई है। 2013 में डीईओ रहे एमआर खांडे पर सवाल करोड़ रुपये की हेराफेरी का आरोप था। एमआर खांडे ने लेखापाल हीरालाल पटेल के साथ मिलकर इस बड़े घोटाले को अंजाम दिया था। जानकारी के मुताबिक स्कूलों में स्टेशनरी खरीदी के नाम पर इस गड़बड़ी को अंजाम दिया गया था। स्कूलों के नाम पर खरीदी सिर्फ कागज की गयी और फर्जी तरीके से भुगतान कर दिया गया।

मामले का खुलासा 2014 में किया गया था, जिसके बाद पुलिस ने FIR दर्ज किया गया। आज इस मामले में CJM कोर्ट ने डीईओ एमआर खांडे और सहायक ग्रेड 3 हीरालाल पटेल को 5-5 साल जेल की सजा सुनाई है, साथ ही जुर्माने की भी सजा सुनायी गयी है।

हीरालाल पटेल पहले भी चेक बाउंस के एक और मामले में दोषी करार दिया जा चुका है, कोर्ट ने इस मामले में सालों पहले सजा के साथ डेढ़ लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया जा चुका है।

Spread the love