संपूर्ण सविलियन, वेतन विसंगति एवं क्रमोन्नति पर कैबिनेट में हो निर्णय – संयुक्त शिक्षक संघ…..रायगढ़ में पंचायत मंत्री ने संपूर्ण संविलियन के दिए थे संकेत

रायगढ़ 8 फरवरी 2020।बजट पूर्व आज छत्तीसगढ़ सरकार का महत्वपूर्ण कैबिनेट बजट के पूर्व होने जा रहा है। जिसमें कर्मचारियों के लिए खासकर शिक्षाकर्मी वर्ग के लिए बड़े निर्णय आने के कयास भी लगाए जा रहे हैं। संयुक्त शिक्षाकर्मी/शिक्षक संघ छत्तीसगढ़ के प्रांताध्यक्ष  केदार जैन एवं उप प्रांताध्यक्ष गिरजा शंकर शुक्ला के मार्गदर्शन में 05 फरवरी 2020 को टीएस सिंहदेव जी मंत्री पंचायत एवं ग्रामीण विकास छत्तीसगढ़ शासन के रायगढ़ आगमन पर संघ के रायगढ़ जिला अध्यक्ष श्री राज कमल पटेल की अगुवाई में प्रतिनिधिमंडल ने मिलकर संपूर्ण संविलियन, वेतन विसंगति, क्रमोन्नति सहित मांगों का ज्ञापन सौंपकर जन घोषणा पत्र में किए गए वादों के अनुसार शीघ्र निर्णय लेने का मांग किया था। चर्चा के दौरान माननीय मंत्री महोदय ने सभी मांगों पर सरकार की नीति और कार्यवाही को अवगत कराते हुए, संपूर्ण संविलियन पर शीघ्र निर्णय का संकेत दिया था।

संघ के *प्रांताध्यक्ष श्री केदार जैन* ने सरकार से मांग किया है कि 08 फरवरी 2020 के महत्वपूर्ण कैबिनेट में सरकार जन घोषणा पत्र में शिक्षाकर्मी समुदाय से किए गए वादे को पूरा करते हुए *संपूर्ण संविलियन, वेतन विसंगति और क्रमोन्नत वेतनमान* का महत्वपूर्ण निर्णय लेकर एक सौगात शिक्षाकर्मी समुदाय को प्रदान करने की कृपा करें। *प्रांताध्यक्ष श्री केदार जैन* ने कहा कि मुख्यमंत्री मा. श्री भूपेश बघेल जी ने पूर्व में कहा था कि सरकार का पहला वर्ष किसानों पर केंद्रित है। दूसरा वर्ष कर्मचारियों पर केंद्रित रहेगा और यह दूसरे वर्ष का बजट पूर्व का महत्वपूर्ण कैबिनेट है। इस केबिनेट में शिक्षाकर्मी समुदाय की आशाएं बनी हुई है और यदि इसमें शिक्षाकर्मी खाली हाथ रहते हैं तो उनका मनोबल कम होगा और एक निराशा व्याप्त होगी। शिक्षा की मजबूती के लिए शिक्षकों का मनोबल मजबूत होना जरूरी होता है। संघ ने  छत्तीसगढ़ सरकार से आग्रह हैं कि छत्तीसगढ़ के शिक्षा व्यवस्था की धुरी, शिक्षाकर्मी सवर्ग के मनोबल को मजबूती प्रदान करने का निर्णय लेकर सौगात प्रदान करे।

Spread the love