दुल्हे की मौत: शादी के कुछ घंटे बाद ही दुल्हे की दर्दनाक हादसे में मौत….पत्नी और शादी में शामिल हुए लोगों कों लेकर लौट रहा था घर…कुछ घंटे में ही उजड़ गयी दुल्हन की मांग

कुशीनगर 10 अक्टूबर 2020। एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है। शादी के कुछ घंटे बाद ही दर्दनाक सड़क हादसे में दुल्हे की मौत हो गयी। हादसा उस वक्त हुआ जब दुल्हा अपनी दुल्हन लेकर घर लौट रहा था। घटना रामकोला-कसया मार्ग की है। हादसे में दुल्हे की मौत हो गयी है, जबकि उसकी मां सहित कई अन्य लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गये।

आपको बता दें कि तरकुलवा थाना क्षेत्र गांव सोनौला रामनगर के धर्मवीर की 20 वर्षीया बेटी काजल की शादी तुर्कपट्टी थाना क्षेत्र के धनौजी गांव निवासी कैलाश राजभर के 22 वर्ष लड़के धर्मेंद्र से तय हुई थी. कुंडली मिलाने के बाद रामकोला के समीप धर्मसमधा मंदिर पर शादी करने का बात तय हुई. तय समय के मुताबिक दोनों परिवार के लोग रामकोला थाना क्षेत्र के मां धर्मसमधा देवी के मंदिर पर पहुंचे और दोनों वर वधु की शादी विधि-विधान से सम्पन्न हुई. शादी की रस्म पूरी करने के बाद दोनों परिवार हंसी खुशी से टैंपो पर बैठकर कसया के लिए चले.

एक टैंपो में पति धर्मेंद्र और उसकी मां विद्यावती देवी तथा पत्नी काजल और उसकी मां शकुंतला देवी व छोटा भाई अमित साथ में बैठकर चल दिए. टैंपो अभी अमवा बाजार के समीप ही पहुंची थी कि अनियंत्रित होकर गड्ढे में जाकर पलट गई. हादसे में काजल के पति धर्मेंद्र और सासू विद्यावती का पैर टूट गया. इलाज के लिए लोगों की मदद से रामकोला सीएचसी पर लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने धर्मेंद्र को मृत घोषित कर दिया और घायल विद्यावती देवी को जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया. अपने पति धर्मेंद्र के शव के पास काजल और उसकी मां शकुंतला देवी का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

थानाध्यक्ष करुणेश प्रताप सिंह ने बताया कि मंदिर मे शादी रचाने के बाद एक परिवार थ्री व्हीलर से घर जा रहा था. रास्ते मे अनियंत्रित होकर टैंपो गड्ढे में पलट गई. इस हादसे में पति धर्मेंद्र की मृत्यु हो गई और उसकी मां घायल है. शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.