कोरोना की वजह से पुलिस इंस्पेक्टर की मौत : दो रिपोर्ट आयी थी निगेटिव, डिस्चार्ज होने से पहले ही हो गयी मौत…. इंस्पेक्टर के साथ तैनात ASI भी संक्रमित… मुख्यमंत्री ने 50 लाख मुआवजा और SI की नौकरी का किया ऐलान

इंदौर 19 अप्रैल 2020। कोरोना का इलाज करा रहे पुलिस इंस्पेक्टर की आज मौत हो गयी। वो पिछले 10 दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। हालांकि शनिवार को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आयी थी, जिसके बाद उन्हें आज डिस्चार्ज किया जाना था, लेकिन अस्पताल से छुट्टी मिलने से पहले ही उनकी मौत हो गयी। 45 वर्षीय इंस्पेक्टर देवेंद्र चंद्रवंशी इंदौर के जूनी थाना प्रभारी थे। टीआई चंद्रवंशी कोरोना पॉजेटिव पाये गये थे, जिसके बाद उन्हें 19 दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि 13 और 15 अप्रैल को उनकी रिपोर्ट निगेटिव आयी थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में छुट्टी देने की तैयारी थी।

इधर इंस्पेक्टर की मौत पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गहरा दुख जताया है। उन्होंने परिजनों को 50 लाख का मुआवजा और पत्नी को सब इंस्पेक्टर की नौकरी देने की घोषणा की है। इधर टीआई के साथ तैनात रहा एएसआई भी कोरोना से संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है। जानकारी के मुताबिक कोरोना की वजह से उन्हें निमोनिया का संक्रमण काफी ज्यादा हो गया था। वो पिछले दिनों वेंटिलेटर पर भी थे, जिसके बाद उनकी स्थिति सुधर गयी थी।

इससे पहले इंदौर में कोरोना की वजह से दो डाक्टरों की भी मौत हो चुकी है। पंजाब में कल ही असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर की भी कोरोना की वजह से मौत हो गयी थी। इंदौर की बात करें तो शहर में कुल 890 कोरोना पॉजेटिव मरीज हैं, जिनमें से 48 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। शनिवार को शहर में सिर्फ 9 मरीज मिले थे, जो पिछले 7 दिनों में सबसे कम संख्या है।

 

Spread the love