2 साल की बेटी की मौत : बाप को बच्ची की मौत के बाद अस्पताल प्रबंधन ने नहीं दी एंबुलेंस…. पॉलिथीन में लपेटकर बाइक पर रोते-रोते पिता ले गया शव

जांजगीर 26 सितंबर 2020।  लॉकडाउन में अस्पताल प्रबंधन की एक अमानवीय हरकत सामने आई है। मृत बच्ची के शव को ले जाने के लिए अस्पताल प्रबंधन ने एंबुलेंस तक नहीं दी, जिसके बाद परिजनों को पॉलीथिन में लपेटकर बाइक से शव को ले जाना पड़ा। बाइक पर पॉलिथीन में लपेटकर बाप अपनी बच्ची के शव का थामे घर पहुंचा। सड़क पर इस हाल में शव के साथ एक बाप की हालत को जिस किसी ने भी देखा, वो अस्पताल प्रबंधन की शर्मनाक करतूत पर हैरान रह गया।

दरअसल यह घटना शुक्रवार की है, जब जिला मुख्यालय से लगे ग्राम बनारी कांजीनाला के पास रहने वाले गोपाल गोंड़ की दो साल की मासूम बच्ची को सुबह सांप ने काट लिया। परिजन उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, लेकिन बच्ची की जान नहीं बच पाई। इसके बाद पोस्टमार्टम कर बच्ची का शव परिजन को दे दिया मगर शव को ले जाने अस्पताल प्रबंधन ने वाहन की कोई व्यवस्था नहीं की। टोटल लॉकडाउन की वजह से कोई नहीं वाहन भी नहीं मिला।

परिजनों के मुताबिक अस्पताल में मौजूद स्टाफ ने लॉकडाउन के चलते वाहन नहीं मिलने का हवाला दिया। बाइक में पीछे पिता अपनी दो साल की मासूम के शव को गोद में लेकर बैठा था। पिता की आंखों में आसू साफ झलक रहे थे। इधर इस मामले में सीएमएचओ डॉ. एसआर बंजारे का कहना है कि परिजन बच्ची मृत अवस्था में ही अस्पताल आयी थी। उन्होंने इस मामले में शो कॉज जारी करने की बात कही है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.