2 डाक्टर की मौत : कोरोना ने इस राज्य में ढाया कहर….एक ही दिन में एम्स में दो डाक्टरों ने तोड़ा दम…कम्युनिटी स्प्रेड का इस राज्य में बढ़ा खतरा

पटना 25 जुलाई 2020। पटना एम्स में एक दिन में अबतक सबसे ज्यादा 13 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत से हड़कंप मचा हुआ है। मरने वालों में दो सोकटोर भी थे। एम्स के कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार ने बताया कि सुपौल जिले के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ महेंद्र चौधरी की इलाज के दौरान पटना एम्स में मौत कोरोना से हो गयी। इसके अलावा पीएमसीएच के रेडियोथेरेपी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ मिथिलेश प्रसाद सिंह की मौत भी कोरोना से हो गयी है।

बिहार में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण से नौ लोगों की मौत हो गई। राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या बढ़कर 221 हो गई है। वहीं 1,800 नए मामले सामने आने के बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 33,511 हो गई।

स्वास्थ्य विभाग की बुलेटिन के अनुसार मुजफ्फरपुर और रोहतास में दो-दो, पटना, नालंदा, पश्चिमी चंपारण और सुपौल में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई। सुपौल में संक्रमण से पहले व्यक्ति की मौत हुई है। राज्य के सभी 38 जिलों में संक्रमण की वजह से लोगों की मौत हो चुकी है। पटना राज्य का पहला ऐसा जिला बन गया है जहां संक्रमण के मामले 5,000 के पार चले गए हैं।

पटना में संक्रमितों की कुल संख्या 5,347 है। वहीं राज्य में संक्रमितों की संख्या 33,511 हो गई। पटना में कुल 1,869 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि पूरे राज्य में 10,458 मरीजों का इलाज चल रहा है। अन्य बेहद प्रभावित जिले भागलपुर में 2,023 मामले, मुजफ्फरपुर में 1,514 मामले, गया में 1,336, रोहतास में 1,257, बेगूसराय में 1,221, सीवान में 1,204 और नालंदा में 1,200 मामले हैं।झारखंड में अब कोरोना वायरस का कम्युनिटी स्प्रेड होने लगा है। आईएमए ने इसका दावा किया है। जुलाई के 24 दिनों में झारखंड में मरीजों का आंकड़ा तिगुना बढ़कर 7627 हो गया है, जबकि राजधानी रांची में पांच गुना बढ़कर 1343 पर आंकड़ा पहुंच चुका है।

Spread the love