पिता के साथ उपचार के लिए अस्पताल जा रही बेटी…अचानक बीच रास्ते में हुई बेहोश… मदद के लिए राह ताक रहे पिता को पुलिस ने अपने वाहन से पहुँचाया अस्पताल…

धमतरी 28 मार्च 2020. तेजी से फैलते कोरोना वायरस को रोकने के लिए देश सहित छत्तीसगढ़ में भी 21 दिन का लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। पुलिस को भी निर्देश दिए गए है कि वे लोग भी इस लॉकडाउन का पालन सख्ती से करवाए। लोग बाहर न निकले इसके लिए देश के कई पुलिस  24 घंटो तैनात है और जरूरतमंदों की मदद भी कर रहे है। ऐसा ही एक मामला धमतरी से सामने आया है. यहाँ पर ग्राम रतावा निवासी सुरेश नेताम की बेटी को पेट दर्द की तकलीफ हुई. पिटा बेटी को उपचार के लिए नगरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर जा रहा था. दर्द इतनी जबरदस्त था की लड़की अस्पताल जाते वक्त ग्राम सांकरा और रानीगाँव के बीच रास्ते में ही बेहोश हो गयी.

सुनसान सड़के और तेज धूप के बीच परेशान पिता भी समझ नहीं पा रहा था. ऐसे में पिटा ने मदद के लिए 108 वाहन को कॉल लगाया गया. 108 वाहन ने खुद को धमतरी में होने बताया और 112 वाहन में कॉल लगाने की बात कहकर फोन काट दिया. इस दौरान पेट्रोलिंग कर रही पुलिस वाहन वहाँ पहुँची और वाहन में सवार सिहावा प्रधान आरक्षक और टीम ने बेहोश पड़ी लड़की को अपने गाड़ी से नगरी अस्पताल पहुँचाया.

इधर लड़की के परिजनों को जैसे ही इसकी जानकारी हुई तो इन्होंने पुलिस का धन्यवाद किया और कहा कि…समय रहते पुलिस के जवान ने हमारी बेटी को अस्पताल पहुँचाये. मुसीबत के वक्त में पुलिस फरिश्ते की तरह हमारी मदद की. इसके लिए पुलिस का बहुत बहुत धन्यवाद …

Spread the love