npg

6 संदिग्‍ध आतंकियों को कोर्ट ने पुलिस रिमांड पर भेजा…कोई ड्राई फ्रूट का व्यापारी, कोई किसान तो कोई ड्राइवर..जानें पकड़े गए 6 संदिग्ध के बारे में

नईदिल्ली 15 सितम्बर 2021. दिल्ली पुलिस ने टेरर मॉड्यूल मामले में गिरफ्तार दो संदिग्‍ध आतंकियों जीशान और आमिर को बुधवार को पटियाला कोर्ट में पेश किया. दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल की ओर से कोर्ट में बताया गया कि आरोपी को  इलाहाबाद लेकर जाना है क्‍योंकि एक आरोपी उमेद की तलाश है. कोर्ट ने मोहम्मद जीशान […]

Spread the love

6 संदिग्‍ध आतंकियों को कोर्ट ने पुलिस रिमांड पर भेजा…कोई ड्राई फ्रूट का व्यापारी, कोई किसान तो कोई ड्राइवर..जानें पकड़े गए 6 संदिग्ध के बारे में
X

नईदिल्ली 15 सितम्बर 2021. दिल्ली पुलिस ने टेरर मॉड्यूल मामले में गिरफ्तार दो संदिग्‍ध आतंकियों जीशान और आमिर को बुधवार को पटियाला कोर्ट में पेश किया. दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल की ओर से कोर्ट में बताया गया कि आरोपी को इलाहाबाद लेकर जाना है क्‍योंकि एक आरोपी उमेद की तलाश है. कोर्ट ने मोहम्मद जीशान कमर और आमिर जावेद को 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा दिया है. गौरतलब है कि इससे पहले, मामले में मंगलवार को भी चार संदिग्ध आतंकियों जान मोहम्मद शेख,ओसामा, मूलचंद ,मोहम्मद अबू बकर को कोर्ट में पेश किया था और इन सभी को 14 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा दिया गया था.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पाकिस्तान द्वारा संचालित टेरर मॉड्यूलका भंडाफोड़ करते हुए पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर आए दो आतंकियों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस के अनुसार, ये गिरफ्तारियां यूपी, महाराष्ट्र और दिल्ली से हुई हैं. स्पेशल सेल के स्पेशल सीपी नीरज ठाकुर ने बताया था, ‘हमने 6 आतंकियों को गिरफ्तार किया है जिनमें से दो पाकिस्‍तान से ट्रेनिंग लेकर वापस आए हैं. मल्टी स्टेट ऑपरेशन कर 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिनमें से 2 लोग इसी साल अभी पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर आये हैं.’

जीशान कमर: इसे उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया गया. जीशान (उम्र 28 साल) ने एमबीए किया हुआ है और दुबई में अकाउंटेंट के तौर पर काम कर चुका है. फिर कोरोना संकट के दौरान लॉकडाउन में वह घर आया था. यहां वह अब खजूर का बिजनेस कर रहा था.

आमिर जावेद: इसे यूपी के लखनऊ से अरेस्ट किया गया. आमिर जावेद (31 साल) जीशान का रिश्तेदार है. आमिर सऊदी अरब के जेद्दा में कई साल काम कर चुका है. वह मजहबी शिक्षा भी देता था. आमिर जावेद के पिता और भाई को अभी भरोसा नहीं है कि उनके बेटे का कोई अंडरवर्ल्ड या टेरर कनेक्शन है. ढाई साल पहले आमिर की शादी हुई थी. घरवालों का कहना है कि बेटा तो अपने काम से काम रखता था. सुबह काम पर जाता और शाम को सीधा घर आता था.

जान मोहम्मद: पेशे से एक ड्राइवर है. जान मोहम्मद शेख (47) उर्फ ‘समीर’ को साल 2001 में असॉल्ट के एक मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है. जान मोहम्मद का परिवार मध्य मुंबई के सायन में रहता है. कई सालों से यहां रह रहा है और करीब एक दशक पहले उसके माता-पिता की मृत्यु हो चुकी है.

मूलचंद उर्फ लाला: बताया गया है कि लाला के तार अंडरवर्ल्ड से जुड़े थे, लाला (47 साल) डी-कंपनी के संपर्क में था. इधर वह किसानी करता था.

अबू बकर: यह बहराइच का रहने वाला है. जेद्दा में काम करता था फिर कुछ साल पहले वापस लौट आया था. साल 2013 में उसने देवबंद में मदरसे में शिक्षा ली थी. बहराइच के कैसरगंज इलाके में अबू बकर (उम्र 23 साल) अपने भाई मोहम्मद उमर के साथ रहता था. इनके पिता सुन्ना खान सऊदी के जेद्दा शहर में पिछले कई सालों से रह रहे हैं. मोहम्मद उमर ने अपने भाई को बेकसूर बताया है. अबू बकर शादीशुदा है और उसकी एक बच्ची भी है.

ओसामा: दिल्ली से गिरफ्तार ओसामा का परिवार ड्राई फ्रूट का काम करता है. इस वजह से ओसामा (उम्र 22 साल) मिडिल ईस्ट के देशों में कई बार व्यापार के सिलसिले में जाता रहा है. आरोप है कि आतंकी ट्रेनिंग के लिए वह पहले मस्कट गया और फिर पानी के रास्ते पाकिस्तान पहुंचा.

Next Story