स्कूल खुलते ही फूटा कोरोना का कहर….. 31 शिक्षक और छात्र हुए कोरोना पॉजेटिव…. फिर से यहां स्कूल को बंद करने का आदेश हुआ जारी

भुवनेश्वर/पटना 12 दिसंबर 2020। कोरोना की वैक्सीन भले ही आ गयी हो, लेकिन कोरोना का कहर फिलहाल खत्म होता नहीं दिख रहा है। स्कूलों में इसका बड़ा खतरा दिख रहा है। कोरोना के मरीजों के बीच कई राज्यों ने स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया है, लेकिन स्कूल खुलते ही छात्रों व शिक्षकों के कोरोना संक्रमित होने की खबरें आने लगी है। बिहार से कुछ दिन पहले ही ऐसी खबर आयी थी, अब उड़ीसा से भी ऐसी ही खबरें आ रही है। उड़ीसा के गजपति जिले में स्कूलों के 31 टीचर व छात्र कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं। CMHO डॉ. प्रदीप कुमार पात्रा ने यह जानकारी दी है. पात्रा ने कहा है कि, “जिले के स्कूलों में 31 नए कोरोना पॉज़िटिव मामले सामने आए हैं. इसमें से 90 प्रतिशत टीचर हैं. पॉजिटिव पाए जाने के बाद इन सभी के स्कूल आने पर रोक लगा दी है.”

मुख्य ज़िला चिकित्साधिकारी डॉ. प्रदीप कुमार पात्रा ने कहा कि “स्कूल खुलने से पहले नियमों के अंतर्गत अनिवार्य रूप से सभी अध्यापकों का कोविड-19 टेस्ट किया गया था. 31 पॉज़िटिव मामलों में 2 छात्रों की रिपोर्ट भी पॉज़िटिव आयी है. इसमें से 21 टीचर मोहना ब्लॉक से हैं.” सभी मामले अलग अलग स्कूलों के हैं. बोर्ड परीक्षा के कारण राज्य सरकार ने 8 जनवरी से 10वीं और 12वीं क्लास के लिए स्कूल खोलने का निर्णय लिया था. शनिवार और रविवार को छोड़कर 10वीं व 12वीं के छात्रों के लिए 100 दिन तक स्कूल आने का आदेश जारी किया गया है. हालांकि इसके लिए छात्रों के लिए पहले से ही अपने परिजनों की स्वीकृति लेना आवश्यक है.

बिहार में 25 स्कूली बच्चे और शिक्षक संक्रमित

4 जनवरी से बिहार में स्कूल-कालेज खुल गये हैं। लेकिन वहां की स्थिति बेहद बुरी है।राज्य के मुंगेर ज़िले में 25 बच्चों के संक्रमित होने की ख़बर आयी है. इसके अलावा ज़िले के असरगंज प्रखंड के लाल बहादुर शास्त्री किसान उच्च विद्यालय की दो शिक्षिकाएं और एक कर्मचारी भी कोरोना पॉज़िटिव पाए गए हैं।इधर गया ज़िले के खिजरसराय प्रखंड के सरैया गांव में सरैया उच्च माध्यमिक विद्यालय के हेड मास्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. गया के जिला शिक्षा पदाधिकारी मुस्तफा हुसैन मंसूरी ने बताया कि हेड मास्टर ने ही फोन पर जानकारी दी कि वह खुद कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं और पटना में रुबन मेमोरियल हॉस्पिटल में इलाजरत हैं. हेड मास्टर ने ही सबसे पहले स्कूल के शिक्षकों को पॉजिटिव होने की बात बतायी और सभी से कोरोना टेस्ट कराने का अनुरोध किया था.

Spread the love