कोरोना संक्रमित पूर्व मंत्री की मौत, बुधवार को ही रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव… अस्पताल में चल रहा था इलाज

लखनऊ 17 जुलाई 2020। राजधानी में गुरुवार को पूर्व मंत्री की कोरोना से मौत हो गई। सपा सरकार में मंत्री रहे जगदीशपुर बलिया निवासी 63 वर्षीय घूरा राम की अचानक तबीयत बिगड़ गई। उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी। बुधवार को 11 बजे के करीब उन्हें केजीएमयू लाया गया। जांच में कोरोना की पुष्टि हुई। संस्थान के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक, गुरुवार सुबह चार बजे उनकी मौत हो गई। उन्हें डायबिटीज की भी समस्या थी। चिकित्सकों ने उन्हें बचाने की पूरी कोशिश की, मगर रेस्पिरेटरी फेल्योर हो गया। फेफड़ों ने काम करना बंद कर दिया। ऐसे में मरीज की मौत हो गई।

बसपा संस्थापक कांशी राम के विश्वस्त सहयोगी रहे घूरा राम 1993 , 2002 व 2007 में बलिया की रसड़ा सुरक्षित सीट से विधायक रहे और मायावती सरकार में स्वास्थ्य राज्य मंत्री रहे। इसके बाद हाल ही में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे। इसके बाद समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने घूरा राम को दल की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सदस्य बनाया था।

समाजवादी पार्टी ने अपने नेता के निधन पर शोक जताया है. पार्टी ने अपने ऑफिशियल ट्ववीटर पर लिखा कि ‘समाजवादी पार्टी एवं दलित समाज के वरिष्ठ, कर्मठ और लोकप्रिय नेता पूर्व मंत्री श्री घूरा राम जी का आकस्मिक निधन अत्यंत हृदय विदारक! शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदना एवं दिवंगत आत्मा को शांति दे भगवान”।

 

Spread the love