कोरोना का असर…. उबर करेगा 3000 से अधिक कर्मचारियों की छंटनी….

नई दिल्ली 19 मई 2020 कोरोना का कहर न केवल इंसानों की सेहत और जान पर पड़ा है बल्कि उनकी नौकरियों पर भी टूट रहा है। दुनिया भर में करोड़ों लोग अपनी नौकरी या तो गंवा चुके हैं या फिर उन पर खतरा मंडरा रहा है। ऑनलाइन टैक्सी प्रोवाइड कराने वाली कंपनी उबर भी वैश्विक स्तर पर 3,000 और नौकरियों में कटौती करने की योजना बना रहा है। मई में उबर ने 3,700 कर्मचारियों की छटनी करने का ऐलान किया था। उबर ने लगभग 45 कार्यालय स्थानों को बंद करने का प्लान किया है। अगले 12 महीनों में उबर अपने सिंगापुर कार्यालय को भी बंद कर सकता है।
उबर के सीईओ दारा खोस्रोशाही नियोक्ताओं को ईमेल में कहा है, “हमने लगभग 3,000 लोगों द्वारा अपने कार्यबल को कम करने और कई गैर-मुख्य परियोजनाओं में निवेश को कम करने के लिए अविश्वसनीय रूप से कठिन निर्णय लिया है। हम सैन फ्रांसिस्को के Pier 70 वाले ऑफिस को बंद कर रहे हैं, वहां से कुछ सहयोगियों को एसएफ में हमारे नए मुख्यालय स्थानांतरित कर दिया है।”

100 कर्मचारियों की छंटनी करेगी वीवर्क इंडिया

रियल्टी कंपनी एम्बेसी ग्रुप के स्वामित्व वाली कंपनी वीवर्क इंडिया अपने बीस प्रतिशत कर्मचारियों यानी करीब 100 लोगों की जून से छंटनी करने वाली है। सूत्रों ने इसकी जानकारी दी है। सूत्रों ने कहा कि वीवर्क इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) करण विरवानी ने कंपनी के कर्मचारियों को आंतरिक संवाद के माध्यम से इस निर्णय की जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि कंपनी परिचालन की लागत कम करने के लिए यह कदम उठा रही है। इस फैसले से लगभग 100 कर्मचारी प्रभावित होंगे।

सूत्रों के अनुसार, कंपनी निकाले जा रहे लोगों को नोटिस की अवधि के आधार पर अलग से पैकेज देगी। कंपनी इस साल के अंत तक चिकित्सा बीमा की सुविधा भी जारी रखेगी और इन लोगों को बिना शुल्क के अपने को-वर्किंग केंद्रों का इस्तेमाल करने की भी छूट देगी। वीरवानी ने एक बयान में कहा, ” हमने मुख्य व्यवसाय के आधार पर अपनी टीम की ताकत को अनुकूलित और नियोजित किया है, क्योंकि हम भारत में अपनी दीर्घकालिक व्यापार रणनीति के तहत 2021 की शुरुआत तक लाभ में आने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं। कंपनी के पास एनसीआर, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे और हैदराबाद में 34 इमारतें हैं, जिनमें 57 हजार से अधिक लोगों के लिए कार्य करने की व्यवस्था है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

error: Content is protected By NPG.NEWS!!